Tags » God

अनन्य प्रेम ही भक्ति है

अनन्य प्रेम का साधारण स्वरुप यह है—एक भगवान् के सिवा अन्य किसी में किसी समय भी आसक्ति न हो, प्रेम की मग्नता में भगवान् के सिवा अन्य किसी का ज्ञान ही न रहे | जहाँ-जहाँ मन जाय वहीं भगवान् दृष्टिगोचर हों | यों होते-होते अभ्यास बढ़ जानेपर अपने-आप की विस्मृति होकर केवल एक भगवान् ही रह जायँ | यही विशुद्ध अनन्य प्रेम है | परमेश्वर में प्रेम करने का हेतु केवल परमेश्वर या उनका प्रेम ही हो—प्रेम के लिए ही प्रेम किया जाय, अन्य कोई हेतु न रहे | मान-बड़ाई, प्रतिष्ठा और इस लोक तथा परलोक के किसी भी पदार्थ की इच्छा की गन्ध भी साधक के मन में न रहे, त्रैलोक्य के राज्य के लिए भी उसका मन कभी न ललचावे | स्वयं भगवान् प्रसन्न होकर भोग्य-पदार्थ प्रदान करने के लिए आग्रह करें तब भी न ले | इस बात के लिए यदि भगवान् रूठ जायँ तो भी परवा न करे | अपने स्वार्थ की बातें सुनते ही उसे अतिशय वैराग्य और उपारामता हो | भगवान् की ओर से विषयों का प्रलोभन मिलनेपर मन में पश्चात्ताप होकर यह भाव उदय हो कि ‘अवश्य ही मेरे प्रेम में कोई दोष है, मेरे मनमें सच्चा विशुद्ध भाव होता और इन स्वार्थ की बातों को सुनकर यथार्थ में मुझे क्लेश होता तो भगवान् इनके लिए मुझे कभी न ललचाते |’ विनय, अनुरोध और भय दिखलाने पर भी परमात्मा के प्रेम के सिवा किसी भी हालत में दूसरी वस्तु स्वीकार न करे, अपने प्रेम-हठ पर अटल-अचल रहे | वह यही समझता रहे कि भगवान् जबतक मुझे नाना प्रकार के विषयों का प्रलोभन देकर ललचा रहे हैं और मेरी परीक्षा ले रहे हैं, तबतक मुझमें अवश्य ही विषयासक्ति है | सच्चा-प्रेम होता तो एक अपने प्रेमास्पद को छोड़कर दूसरी बात भी मैं नहीं सुन सकता | विषयों को देख, सुन और सहन कर रहा हूँ | इससे यह सिद्ध है कि मैं सच्चे-प्रेम का अधिकारी नहीं हूँ, तभी तो भगवान् मुझे लोभ दिखा रहे हैं | उत्तम तो यह था कि मैं विषयों की चर्चा सुनते ही मूर्छित होकर गिर पड़ता | ऐसी अवस्था नहीं होती, इसलिए निःसंदेह मेरे हृदय में कहीं-न-कहीं विषयवासना छिपी हुई है | यह है विशुद्ध प्रेम के ऊँचे साधन का स्वरुप | 37 more words

Hindi

No ONe Is An IsLAND

We all need someone.  We all are dependent on something or someone.  No one has done “it” alone.  Someone or something served to get you/me to a destination, goal, or desired outcome.   117 more words

Life

Week 42

I feel so bad because I haven’t really taken any pictures of Tru this week. He’s a hard kid to photograph most of the time. Lately he has been a little blur flying around. 833 more words

Letters to My Children

Letter 3

I am now living on this Earth for 35 years this past July 1st, 2014.  Around this time some things are surfacing in my mind.  1,245 more words

Exodus 14:14
14 The Lord will fight for you, and you have only to be silent.

#Bible http://mydailybible.org/dv/esv/2014-08-01.htm

God