फ़िल्म – टैक्सी ड्राइवर (1954)
गायक/गायिका – मोहम्मद रफ़ी, जॉनी वाकर
संगीतकार – एस. डी. बर्मन
गीतकार – साहिर लुधियानवी
अदाकार – देवानंद, जॉनी वाकर

चाहे कोई खुश हो चाहे गालियाँ हज़ार दे
मस्त राम बन के ज़िंदगी के दिन गुज़ार दे

पी के धाँधली करे तो मुझको जेल भेज दो
सूँघने में क्या है ये जवाब थानेदार दे

भाव अगर बढ़ा भी डाले सेठ यार ग़म न कर
खाये जा मजे के साथ जब तलक़ उधार दे

धत् तेरे की!
हवा निकल गया
जैक् लगाओ
चक्का, पहिया, पम्पिंग्

बाँट कर जो खाये उसपे अपनी जान ओ दिल लुटा
अरे जो बचाये माल उसको जूतियों का हार दे