प्रदेश में पकड़े गए एक हजार करोड़ रुपए के देसी हवाला की छानबीन में आयकर विभाग के सामने चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। सहकारी समितियों के जरिए हो रहे इस गोरखधंधे में कपड़ा एवं अन्य व्यवसाय से जुड़े कारोबारी कमीशन के लालच में कालेधन को बैंकों के जरिए दूसरे शहरों में ट्रांसफर कर रहे थे। समिति इसके एवज में एक लाख पर 100 रुपए का कमीशन वसूलती थी।