Tags » Youth

Tackling Sexual Assault: Compulsory Self-defence Classes for Victorian Secondary Students

Ellijahna Victoria
Law & Order Reporter
YMCA Youth Press Gallery

VICTORIAN students have called for compulsory self-defence classes at secondary schools in a bid to combat the threat of violence and sexual assaults. 262 more words

Youth Parliament

Forgetting our roots

Did you? Maybe you woke up early and had to run out the door before you got to enjoy your bowl of honey roasted oats. Maybe you got up in time, and watched the toast burn in the toaster. 734 more words

आभार

दिनों-दिन घुटते हुए शहर को उसकी सांसें लौटाने के लिए राज्य सरकार विशेष तौर पर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को बधाई। जयपुर शहर की मानसागर (जलमहल) झील को संरक्षित क्षेत्र घोषित करके सरकार ने एक ऎसा कदम उठाया है, जिसे आने वाली कई पीढियां याद रखेंगी। झील और उसके आस-पास के क्षेत्र में निर्माण, मरम्मत, खनन जैसी गतिविधियों पर रोक लगाने के निर्णय से न सिर्फ तिल-तिल मरती इस झील को नवजीवन मिल गया है, बल्कि आस-पास के पर्यावरण में भी जान फूंकने की आशा बन गई है।

केवल इसी झील के साथ नहीं, प्रदेशभर के हजारों जलस्त्रोतों के साथ पिछले कुछ वर्षो से जो हो रहा है, उसने न सिर्फ पीने के पानी की कमी कर दी है, बल्कि पर्यावरण के लिए भी संकट उत्पन्न कर दिया है। कहीं बांधों के जलग्रहण क्षेत्रों पर कब्जे हो गए तो कहीं तालाबों, नदी-नालों पर बस्तियां और फार्म हाउस काट दिए गए। यहां तक कि ऎतिहासिक और सांस्कृतिक महत्व वाले जलाशयों, बावडियों और कुओं तक को नहीं छोड़ा। राजनेता, कारोबारी और सरकारी कारिंदे चंद पैसों के लालच में हमारी विरासत की इन अमूल्य धरोहरों को तहस-नहस करने में लगे हैं। “पत्रिका” लम्बे समय से इन्हें बचाने की मुहिम में जुटा हुआ है। जागरूक नागरिकों ने आंदोलन किए, न्यायपालिका ने फैसले दिए, पर बर्बाद करने वालों की बदनीयती में कमी नहीं आई। ऎसे में मानसागर झील को बचाने का सरकार का यह फैसला निराशा के अंधेरे में उम्मीद का दीपक बनकर आया है।

जयपुर के बहुत से नागरिकों ने अपने जीवनकाल में ही शहर और आस-पास के सभी जलाशयों को बर्बाद होते देखा है। रामगढ़ बांध, कूकस बांध, द्रव्यवती नदी (अमानीशाह नाला) तो कुछ बड़े उदाहरण हैं। यहां तक कि उच्चतम न्यायालय तक के फैसले और निर्देश ताक में रख दिए गए। जयपुर कलक्टर ने भी जिस गहराई से अध्ययन कर रिपोर्ट बनाई, प्रशंसनीय है। तथ्यों और आंकड़ों से दूध का दूध और पानी का पानी कर दिया। इस रिपोर्ट पर त्वरित और कठोर कार्रवाई करते हुए बिना किसी दबाव या प्रभाव में आए झील को संरक्षित घोषित करने की अधिसूचना जारी कर दी। इसके लिए पूरे शहर की ओर से राज्य सरकार का आभार। इच्छाशक्ति प्रदर्शन करने वाले ऎसे ही कुछ और कड़े फैसलों का शहरवासियों को इंतजार है। इस शहर का पर्यावरण, विरासत और सांस्कृतिक वैभव अमूल्य धरोहरें हैं, उन्हें बनाए रखने के लिए जो भी आगे आएगा, जयपुर हमेशा उनका आभारी रहेगा।

Pravah

Summer Camp - Day 4

Yesterday, the kids designed costumes and chose elements (earth, air, water, fire), colours, and lines (straight, curved, jagged etc.) to represent their characters’ traits.  Today, we were back in the design room, trying on hats, shirts, vests, dresses, scarves – you name it – till everyone had an outfit. 56 more words

Shakespeare

Forever In A Wasteland

I know the secrets I keep. I know that people think they know me. Especially my mother and best friend. They all seem to know who I really am but they don’t know the secrets I keep. 332 more words

Blogging

YOGA CATCHING ON WITH YOUNG ATHLETES

Key Points:

  • Participation in yoga is increasing amongst all age groups in the United States
  • When done correctly, yoga has many benefits for young athletes in improving core strength, flexibility, and psychological benefits…
  • 465 more words
Articles

poetry in chapters

There are stages in the writing of poems

Not stages as in the beginning or the end

But chapters in your life.

From nineteen to twenty five… 136 more words