Tags » Dalit

Research Network ‘Writing, Analysing, Translating Dalit Literature’ (Nicole Thiara)

Research Network ‘Writing, Analysing, Translating Dalit Literature’

Principal Investigator: Nicole Thiara

In 2014, Nottingham Trent University launched an AHRC-funded research network which is devoted to the literature of one of India’s most oppressed and silenced communities. 720 more words

NTU

Calling For An Honest Conversation Between Left And Dalit Bahujan Groups

Source: Countercurrents.org

The last few months have seen unprecedented Dalit mobilisation throughout India against attacks by the Sangh fringe forces on Dalits and Muslims and the BJP leadership’s tacit and sometimes not so tacit approval at various levels. 759 more words

External Publications

Power to "Bharat Ki Mata nahee Banengey!" #PinjraTod - Rukmini Sen

Bharat Ki Mata nahee Banengey!#PinjraTod

Why did the girl students in Delhi scream “Bharat Ki Maata Nahee banengey” ?
Lets try understanding what do people mean by Bharat Mata. 467 more words

The Feminist

मराठों का नौकरियों में हिस्सा कौन खा रहा है? - Dilip Mandal

महाराष्ट्र में SC,ST, OBC का सरकारी नौकरियों का कोटा भरा नहीं है. तो मराठों का नौकरियों में जो 30% हिस्सा बनना चाहिए, उसे कौन खा रहा है? 105 more words

The Feminist

Indelible.

Her demise shook the world
and left an uprising in its wake.
She was human but the world
obnoxiously called her a Dalit. Her
skin was marred with scars of… 323 more words

दवाब के चलते जिग्नेश को रिहा किया गया , लेकिन अपने घर में नजरबंद

#FreeJignesh
#StandWithJignesh

भारी दवाब के चलते जिग्नेश को रिहा किया गया है , लेकिन वह अपने घर में नजरबंद हैं

The Feminist

जिग्नेश मेवानी को दिल्ली से अहमदाबाद लौटते ही गुजरात पुलिस ने उठाया। कहाँ ले गयी और क्यों कोई खबर नहीं

#FreeJignesh
#StandWithJignesh

दलित प्रतिरोध की अगुवाई कर रहे साथी जिग्नेश मेवानी को दिल्ली से अहमदाबाद लौटते ही गुजरात पुलिस ने उठाया। कहाँ ले गयी और क्यों कोई खबर नहीं। इस घोर जनविरोधी की भर्त्सना करते हैं |
CPI(M) lucknow सभी जनवादी और प्रगतिशील ताकतों से इस हमले के खिलाफ प्रतिरोध में शाम 4 बजे आंबेडकर प्रतिमा हजरतगंज , पर धरने पर शामिल रहने की अपील करते हैं|

See Translation

The Feminist