Tags » Death-of-child

Unforgiving Grief in a Normal World

I am 3 weeks away from the 2nd year anniversary, and I feel so lost. Grieving the loss of my son has been the hardest thing I’ve ever had to do. 1,260 more words

Dealing With Loss

Losing a child...year seven

I almost made it without writing this. Here is that day again, the day that reminds me that I lost my son, my only son, my youngest child, seven years ago today. 362 more words

Reflections

THOSE WHO LOSE A CHILD CANNOT BE CONSOLED

The Reading for Today in the Lectionary:

Matthew 2: 16Then Herod, when he saw that he had been tricked by the wise men, became furious, and he sent and killed all the male children in Bethlehem and in all that region who were two years old or under, according to the time that he had ascertained from the wise men.  537 more words

Not Ashamed

I’ve contemplated writing this post for months, but fear has kept me from doing so. It’s not an easy thing to discuss with anyone, much less the entire internet world. 1,585 more words

What child is this

What child is this, who, laid to rest . . . .

Snow is falling. Huge flakes like white feathers shaken from the sky, a rare thing in the North Carolina Piedmont at the beginning of December. 359 more words

Fran Haley

Thoughts...

Tragedy and I are old friends.

I have dealt with tragedy before.

This is what I know.

It is hard everytime.

The road may be different but pain always shows its face. 300 more words

पोलियो ड्राप्स पीने के बाद अजीबोगरीब स्थिति में बच्चे की मौत

आगरा से परिजनों के साथ आया था रिश्तेदारी में

लुधियाना (गुरबिंदर सिंह ), 21 सितंबर:– आज अजीबोगरीब स्थिति में एक बच्चे की मौत का मामला सामने आया है। मामला अब्दुल्लापुर बस्ती के फौजी मोहल्ला गली नंबर 3 में पोलियो ड्रॉप्स पीने के बाद बच्चे की मौत होने का है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बच्चे का नाम आदित्य और बच्चे की उम्र डेढ़ साल के करीब बताई जा रही है। मृत बच्चे के पिता रविंदर कुमार के अनुसार जिस समय बच्चे को ड्रॉप्स पिलाई गई थी उस समय बच्चा नींद में था, फिर भी ड्रॉप्स पिलाने आई महिलाओं द्वारा उक्त बच्चे को ड्रॉप्स पिलाई गई। पोलियो की ड्रॉप्स पीने के बाद बच्चा फिर से सो गया और बाद में घरवालों द्वारा जब दूसरी बार बच्चे को जगाने पर भी बच्चे ने आंखे नहीं खोली तो परिवार के सदस्यों के द्वारा उसे अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया।

बच्चा अपने माता-पिता के साथ यहाँ आगरा से अपने रिश्तेदारी में आया था। मोहल्ले के और बच्चो को भी ड्राप्स पिलाई गई लेकिन यह वाक्य सिर्फ आदित्य के साथ ही घटित हुआ है।


जांच अधिकारी सुरिंदर चोपड़ा ने बताया कि बच्चे की मौत कैसे हुई इस बारे में जांच-पड़ताल की जा रही है। फिलहाल बच्चे की मृतक देह को सिविल हस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए रखवा दिया गया है। बच्चे की मौत कैसे हुई इस का खुलासा तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आने के बाद ही होगा।

Punjab