Tags » Death Valley

अमेरिका की डेथ वैली में रेंगते है पत्थर, ये है असली वजह

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। पृथ्वी में ऐसी कई चौकानें वाली बातें है, जिन्हें जान कर हम अक्सर हैरान रह जाते हैं और इसी में से एक है डोथ वैला के रेंगते हुए पत्थर। जी हां, कई दशक से वैज्ञानिक इस खोज में लगे हुए हैं कि आखिर कैसे ये पत्थर अपने आप रेंगते हुए मीलो की दूरी तय कर लेते हैं। सालों की मेहनत के बाद इन पत्थरों के स्लाईड होने का कारण सामने आया है।

दुनिया की सबसे गर्म स्थानों में से एक है डेथ वैली

डेथ वैली पृथ्वी पर सबसे गर्म स्थान होने की वजह से जानी जाती है। ये वैली उत्तरी अमेरिका में कैलिफोर्निया और नेवादा की सीमा पर स्थित है। 1933 में इस वैली का नाम डेथ वैली नेशनल पार्क रखा गया था। यहां पर पत्थरों का रेंगना दुनिया की सबसे अजीब घटनाओं में से एक है। इन्हें सेलिंग स्टोन के नाम से भी जाना जाता है। हांलाकी इन पत्थरो को कभी भी किसी ने व्यक्तिगत रूप से रेंगते हुए नहीं देखा, लेकिन पत्थरों के स्लाईड होने की वजह से इनके द्वारा छोड़े गए निशान लोगों को आश्चर्यचजनक अवस्था में डाल देते हैं।

इस मटीरियल से बने है ये पत्थर

रेसट्रैक प्लाया के भारी पत्थर डोलोमाइट और साएनाइट से बने हैं और इन्ही मटीरीयल से आसपास के पहाड़ भी बने हैं। वो इरोशन (भूरक्षन) के कारण नीचे की ओर स्लाईड होते हैं। एक बार जब वे प्लाया की सतह पर पहुंच जाते हैं, तो ये पत्थर होरिजोन्टल पोजिशन में आगे बढ़ने लगते हैं।

1900 के दशक से खोजा जा रहा है राज

कई बार इन बड़े-बड़े पत्थरों ने लगभग 1,500 फीट तक के ट्रेल्स पीछे छोड़े है। अगर सतह काफी रफ है तो वो सिधी ट्रेल बनाएंगे वहीं अगर सतह चिकनी है तो ये बोल्डर (पत्थर) घूमते हुए जाते हैं। 1900 के दशक के बाद से इन पत्थरों का निरीक्षण और अध्ययन करना शुरु कर दिया गया था।

इस वजह से रेंगते है पत्थर

ये सेलिंग स्टोन बर्फ, पानी और हवा के सही संतुलन का परिणाम हैं। 2014 में की गई रिसर्च में पाया गया कि सर्दियों के दौरान बारिश में एक छोटा सा तालाब बनाता है। जिसका पानी रात भर में जम जाता है और अगले दिन धूप की वजह से हल्का पिघलने लगता है। इस कारण बर्फ की एक विशाल शीट बन कर तैयार हो जाती है और ये शीट केवल कुछ मीटर तक ही मोटी रह पाती है। हल्की हवाओं के कारण ये शीट टूट जाती है और पत्थरों के पीछे जमा हो जाती है, धीरे-धीरे हवा के फोर्स के कारण पत्थर आगे की ओर स्लाईड करने लगते हैं।

इस तरह किया था ट्रेक

स्पेशल परमिट लेने के बाद, वैज्ञानिकों ने डेथ वैली में बड़े पत्थरों को रखा और जीपीएस ट्रैकर्स की सहायता से इन पत्थरों को ट्रेक करने की कोशिश की। रिकोर्डिंग में पाया गया कि ये पत्थर अपने आप बर्फ और हवा की वजह से स्लाईड कर रहे हैं।

Source: Bhaskarhindi.com

News Paper Hindi

Death Valley

We took a big road trip across America a couple of years back, from Los Angeles to New York. Money and time meant we didn’t drive all the way but we still covered a good distance before hopping on planes. 517 more words

Travel

Furnace Creek Inn

Beautiful setting.  This is the luxury resort lodging in Death Valley National Park.  Not exactly a campground.  Originally built in 1927, it still looked pretty swanky in 2009.  80 more words

Travel

National Park Week is coming up. That means free entry at Yosemite, Death Valley, Joshua Tree and other parks

National parks that charge admission fees — including Yosemite, Death Valley, Joshua Tree, Sequoia and Kings Canyon in California — will be free Saturday to mark National Park Week. 34 more words

National Park Week is coming up. That means free entry at Yosemite, Death Valley, Joshua Tree and other parks

National parks that charge admission fees — including Yosemite, Death Valley, Joshua Tree, Sequoia and Kings Canyon in California — will be free Saturday to mark National Park Week. 34 more words

Muschamp needs to check his facts: Clemson’s Death Valley is the REAL Death Valley

It’s hard to believe, but South Carolina head coach Will Muschamp took a shot at Clemson despite the fact his first two teams at South Carolina have been beat by a combined score of 90-17. 1,148 more words

Football