Tags » Featured » Page 2

Another winter walk

Finally we got some snow here. And luck had it, that it arrived just when I had a day off and could head into the hills to give the good old Bronica S2A another spin. 312 more words

Landscape

ओपी नैय्यर : एक संगीत युग

16 जनवरी 1926 को लाहौर में जन्मे भारतीय सिनेमा इतिहास के सबसे सफल संगीतकार ओपी नैयर ने फिल्मी जगत हो “लेके पहला पहला प्यार” “कजरा मोहब्बत वाला” “कभी आर कभी पार” “ये देश है वीर जवानों का” जैसे जाने कितने गाने दिये जो युग युगांतर के लिए हर संगीत प्रेमी के दिल-ओ-दिमाग पर सुरूर बनकर छा गए।
फिल्म नया दौर में दिए संगीत के लिए उन्हें साल 1958 में फिल्म फेयर पुरस्कार से नवाजा गया। साल 1952 में आई फ़िल्म “आसमान” और उसी से शुरू हुआ उनका भारतीय सिनेमा में बतौर संगीतकार एक सुनहरा सफर जो सदैव के लिए सुनहरा और अप्रतिम हो गया।
हर उत्थान का पतन निश्चित है हर अलक्ष्येंंद्र को हाथ पसारे जाना है भारतीय सिनेमा जगत के अलक्ष्येंद्र ओ पी नय्यर साहब 28 जनवरी 2007 को इस संगीतमय दुनिया को वायलिन की चीखती धुन के बीच तन्हा छोड़ गए।

Society