Tags » Ganges

केदारनाथ चौबे का नित्य गंगा स्नान

इस इलाके में कई लोग हैं जो बरसों से, बिला-नागा, गंगा स्नान करते रहे हैं। आज एक सज्जन मिले -श्री केदारनाथ चौबे। पास के गांव चौबेपुर के हैं। वृद्ध, दुबला शरीर, ऊर्जावान। द्वारिकापुर में एक टेकरी पर बनाये अस्थाई मन्दिर में भागवत कथा कहते हैं। कुछ सुनने वाले जुट जाते हैं। कभी कोई मेला – पर्व का दिन हो तो ज्यादा भी जुटते हैं।

आज एक महिला उनका स्थान साफ़ कर लीप रही थी। वही एक मात्र श्रोता होगी शायद आज कथा की।

चौबे जी ने बताया कि तेरह साल हो गये उन्हे नित्य गंगा स्नान करते। भगवान करा रहे हैं और वे कर रहे हैं। अपने गांव से रोज साइकल से आते हैं। पहले साइकल ऊपर रखते थे। एक दिन एक व्यक्ति (उन्होने नाम भी लिया) ने साइकिल उड़ा ली। तब से अपने पास ही रखने लगे हैं।

तेरह साल हो गये इस नित्य कर्म को; आगे उन्होने सन 2020 तक का समय मांगा है भगवान से।

उसके बाद? सन 2020 के बाद?

उसके बाद जहां ले जायें भगवान! उन्होने अपना हाथ ऊपर उठा कर संकेत किया कि शरीर सन बीस तक मांगा है उन्होने। ज्यादा जीना होगा तो भगवान की इच्छा।

मैने उनकी उम्र पूछी। बोले छिहत्तर साल। अर्थात अपने लिये अस्सी साल की अवस्था की कामना की है उन्होने भगवान से।

वे देखने में 76 से कम के लगते है।  “भगवान ने शरीर सन 2020 तक ले लिये नहीं, बीस साल और चलने के लिये बनाया है” मैने अपना मत व्यक्त किया।

केदारनाथ जी बीस साल जीने की बहुत इच्छा वाले नहीं लगे। बोले जो इश्वर चाहेंगे, वही होगा।

अपना कर्म, अपनी चाह, अपना जीवन; सब ईश्वर के अधीन कर केदारनाथ जी कितने सहज भाव से जी रहे हैं! हम वैसे क्यों नहीं हो पाते जी?!

Surroundings

हनक-ए-योगी

द्वारिकापुर गंगा किनारे गांव है। जब मैने  रिटायरमेण्ट के बाद यहां भदोही जिले के विक्रमपुर गांव में बसने का इरादा किया था, तो उसका एक आकर्षण गंगा किनारे का द्वारिकापुर भी था। यह मेरे प्रस्तावित घर से तीन किलोमीटर दूर था और इस गांव के करार पर बसा होने के बावजूद गंगा तट पर आसानी से आया जाया जा सकता था। पास में अगियाबीर का टीला है जिसमें पुरातत्व विभाग वाले खुदाई करते हैं। कुल मिला कर सवेरे भ्रमण करने के लिये अच्छा रोमांच हो सकता था यह स्थान।

Surroundings

Story Time

Rishikesh has done her work. She has helped me let go of the story of the fire. And that’s all it is really, a story. The facts are: there was a fire 10 flights below me; it filled the hotel with smoke; the fire was extinguished; no one was hurt. 413 more words

India

Story Time

Rishikesh has done her work. She has helped me let go of the story of the fire. And that’s all it is really, a story. The facts are: there was a fire 10 flights below me; it filled the hotel with smoke; the fire was extinguished; no one was hurt. 411 more words

India

En flod med rättigheter


Floden Ganges är en mäktig flod som rinner genom Indien. För hinduerna är den helig och för många indier är den en del av vardagslivet. Det är här de badar, tvättar kläder och blir av med all smuts. 159 more words

Roligt

Mahabalipuram (Tamil-Nadu)

Mahabalipuram also known as Mamallapuram in a small city on the coast of Tamil-Nadu, between Chennai and Pondichery. It is classified as a UNESCO World Heritage Site. 246 more words

Inde

Are "Labels" or Tags Permanent?

via Daily Prompt: Label

The mind loves to Label

As a matter of fact, for the Mind to Operate

It needs to Label

It Labels Taste,It Labels Touch… 159 more words

Wordpress Daily Prompts