Tags » Gossip


​Shutting down Port Harcourt ladies n gentlemen as Helena Hotels presents *Celebrating 9ja @57* on d 1st of October 2017…

Featuring lots n lots of artists performances, twerk competition n lots more…

48 more words
Gossip

We bring you TROD – Wild Mind one of the hottest Tonez in Nigeria right now.

TROD is the younger brother of the Late indigenous rap Legend “Dagrin “.

62 more words
Music

Νέος εφιάλτης για τα αστέρια του Nomads...

Άγριο παρασκήνιο στο reality επιβίωσης του ΑΝΤ1 που θα γίνει στις Φιλιππίνες. Τρέμουν τον Κιμ Γιονγκ Ουν οι σταρ του Nomads.

Η «Espresso» σε δημοσίευμά της αποκαλύπτει ότι οι wannabe παίκτες του ριάλιτι επιβίωσης «Nomads» του ΑΝΤ1 παρακολουθούν τις τελευταίες ημέρες με κομμένη την ανάσα τις εξελίξεις στη Βόρεια Κορέα. 10 more words

GOSSIP

7: The postman

Why would a Pacific island under three miles square need a postman? When a third of that space (the other side of the dome like hill that dropped sheer) was designated hallowed ground by the islanders and uninhabited? 512 more words

Creative Writing

१९७७ की बात

रत्ना भाभी भी वैसे तो जाटूसाना से बोरी भर कर किस्से लाई थी. पर अपने पीहर के बतोले तो सब के पास थे. जुआले के औरत और बच्चे कान तब देते थे जब वे कलकत्ते वाली थैली खोलती थी. एक ही बार गयी थी बिशन भैया के साथ और एक छोटा सा टुकड़ा तोड़ लाई थी, कलकते के बऊ बाज़ार का. जब कभी भी किसी ने नई बतरस से बाज़ी मारी, रत्ना भाभी बऊ बाज़ार का इक्का निकाल लेती.
बिशन भैया के आने में अभी छह महीने तो और थे. पर आज जैसे ही रत्ना ने बऊ बाज़ार का खाका खींचा उसे बब्बन के भैया खड़े दिखे; बनियान में, खिड़की से झाँकते, मिसरा जी की बालकनी की ओर, जहाँ मिसरानी खड़ी थी, इनकी आँखों में आँख मिलाए, मुस्कुराती हुई. रत्ना तो बात क्या साँस भी भूल गयी. उसे लगा जब तिजोरी किसी ने खोल ही ली है तो क्या बचा होगा?
हुआ यह था कि बब्बन लल्ला से चुहल करके बिरह के दिन काटते हुए रत्ना थोड़ी आगे चली गयी थी. बब्बन की बार बार मनुहार सुन कर एक, बस एक, चुम्मे के लिए राज़ी हो गयी थी. १९७७ का चुम्मा, हाथ से तोड़कर. यानी बब्बन अपनी अँगुलिया बाँध कर रत्ना भाभी के गाल से चुम्मा उठाएगा, जैसे कोई चूरमा लेता है और अपने मुँह में डाल लेगा.
आगे पीछे फिरता बब्बन पास आकर बोला, ” तो कब भाभी?”
” अपना काम करो लल्ला जा के. पढ़ना लिखना तो है नहीं, पैर से पैर मारना सारे दिन .” ऐसा झिड़का कि लल्ला के तो होश उड़ गये.
रत्ना को लगा बब्बन के भैया उसकी विरह अग्नि में तब ही जलेगे ना, जब वह यहाँ जल जल कर कोयला भएगी. वरना वो तो ठहरे आदमी.
उसे क्या पता भावनाएँ न्यूटन के नियम से नहीं चलती हैं. मिसरानी ने सूरज ढले इशारा किया और बिशन बाबू इत्र लगा के चढ़ गये सीढी. मित्रो, आप सबका ही नहीं मेरा भी दिल धड़क रहा है, यह दृश्य देख कर.
दरवाज़ा खड़का. खुला. किवाड़ ज़रा सा खोलकर मिसरानी ने देखा और धीरे से कहा, ” आप कल आना, अभी मिसरा जी घर पर नहीं है.’
यह १९७७ की बात है दोस्तो. कहानी को यहीं ख़त्म होना था.
१९७७ में पुरुष अपनी नैतिकता से अपदस्थ होने के लिए निकल पड़ा था, मगर औरत का मन नहीं माना था. बाद में क्या हुआ आप जानते हैं.

India

Latest Football News

Paris Saint-Germain have told Le Parisien that speculation that Edinson Cavani was offered €1 million by club president Nasser Al-Khelaifi to allow Neymar to take penalties is untrue. 784 more words

Football