Tags » Gwalior

कन्या भोज

   शायद …  मैं अपने शहर की एक संपन्न सोसायटी में रहती हूँ , जहाँ सभी उच्च शिक्षित एवं संपन्न लोग निवासरत  है। सोसायटी में कुछ बंगले निर्माणाधीन थे  इसलिए  वहाँ कुछ मजदूर वर्ग के लोग परिवार सहित कार्य करने आया करते  थे। एक दिन मजदूरों के कुछ बच्चे और बच्चियाँ  खेलते -खेलते लिफ्ट से हमारे फ्लोर पर आ गए और खेलने लगे अपनी ग्रामीण भाषा में आपस में बातें करने लगे  तभी अचानक से बगल वाले फ्लैट से हमारी पड़ोसन निकल कर आई और गार्ड को बुलाकर फटकार लगाई कि क्या करते रहते हो आवारा बच्चे घुसे चले आते है और  तुम सोते रहते हो, और भी बहुत कुछ कहा उन्होंने तभी आस-पास के फ्लैट के सभी लोग बाहर आ गए और गार्ड की घोर लापरवाही का वर्णन करने लगे , इसी बीच बच्चे भाग खड़े हुए।   6 more words

Gwalior

When My Brain Heated Up and Bursts 

Hello, World! I am your Teenage Writer and today I am here to discuss a very painful day of my life. I was studying in Gwalior in Little Angels High School. 444 more words

Blogs

A Heritage Of Heroism: Gwalior

Situated in the state of Madhya Pradesh, Gwalior is the city of true royals, the Scindias. City is well known for its majestic fort, considered as one of the best in the world.  1,086 more words

Gwalior Gharana

The origin of everything is always fascinating. When it comes to the origin of music, the theory behind it is even more fascinating.

The origin of music in India is considereed to date back to the era of Samaveda. 627 more words

Jain tirthankaras : depictions in art

       The term tirthankara in Jainism refers to a saviour who has crossed the samsara or cycle of birth and rebirths and made a path for others to follow. 579 more words

Sculpture