Tags » Hindi Poems

Yeh kaisi barish hai

Yeh kaisi barish hai,
Jo horahi hai aaj,
Bina sawan k mahine ke,
Yeh baras rahe hai aaj.

Koi to pyaar mein roya hoga,
Kisi ka dil tadpa hoga aaj, 116 more words

Categorized

सकून

ख़ुशी का आलम
दिल में सकून
देता है दस्तक
दिल में कोई
अजब सी हलचल
प्यारे से पल
जी लो जी भरके
कह रहा यह मन!

Poetry / कविता

अच्छा लगता है

मन के भीतर
कुछ अहसास
तन्हाइयों का साथ
अच्छा लगता है
अपनी ही बातों से
अपने ही जज़्बातों से
रूबरू होना
अच्छा लगता है
अपने ही दिल से
अपने ही खयालो में
गुम हो जाना
अच्छा लगता है
गुफ्तगू प्यारी सी
अपने ही दिल से
और फिर उसपे
मंद मंद मुस्कान
होंठो पे आना
अच्छा लगता है
जीवन के ये पल
जो हैं अहम और अनमोल
बड़ी शिदत से जीना उनको
अच्छा लगता है!

Poetry / कविता

रूह

रूह से रूह का मिलन
न कोई रंग
न कोई रूप
न शब्द कोई
न ही कोई मुलाकात
न कोई वक़्त
न कोई जगह
सिहरन सी इक
मीठी सी शांति दे जाये
नश्वर है, भ्रम है
यह देह
फिर भी
जीवन भर छलता जाये!

Poetry / कविता

कुछ लम्हें बस...

कभी वक़्त फिसल जाता है,

रेत की तरह,

तो कभी लम्हें जलते है,

जुगनूओंकी तरह,

चाहतें बस उड़ जाती है,

हवाओंकी तरह,

पर तुमसे की हुई मोहोब्बत,

बरक़रार रहेगी हमेशा.

* * * * *

बहोत कुछ माँगा नहीं था,

तुम्हारे सिवा तुमसे,

खुद को तुझमें पाया जब,

झाँका मैंने खुद में,

ख्वाबोंका सिलसिलासा बन गया,

तेरे और मेरे बीच,

रेशमी धागा खींचता गया,

इन दूरियोंकी बीच.

My Own Poems

Ek nazar....Koi humein bhi dekhe..!


Ek nazar dekhun,
To sab hai yahan,
Ek nazar dekhun,
To kuch bhi nahi.

Ek nazar dekhun,
To tum ho yahan,
Ek nazar dekhun,
To tum bhi nahi. 120 more words

Hindi Poems

Kal hui baris ....Kuch naye sapne de gayi!


Kal baris hui..,
To seishe sadak pe lag gaye,
Aasmaan usmein utar aaya,
Aur panchi udte dikhai dene lage.

Kuch bache,
Kagaz ki kashti banane lage, 180 more words

Hindi Poems