Tags » Hockey

Canadiens sign Phillip Danault to three-year, $9.249-million contract

The Canadiens and Phillip Danault have avoided salary arbitration.

The club announced on Sunday afternoon that the 25-year-old centre has agreed to terms on a new three-year contract worth US$9,249,999 that has an annual salary-cap hit of $3.083 million. 186 more words

Montreal Canadiens

Former NHL goaltender presumed dead from drowning

By Anthony Caruso III | Publisher

Former NHL goaltender Ray Emery is presumed dead after an apparent drowning incident early Sunday morning. He was reportedly out with friends swimming when he never resurfaced. 264 more words

Sports

Reviewing Vinnie Hinostroza's Time in Chicago

Vinnie Hinostroza was the most important piece of the trade that was sent away from Chicago when it comes to on-ice production.  Marian Hossa’s contract and salary cap hit was the focal point and the reason for the trade, but since he is not playing anymore, Hinostroza becomes the second biggest part of the trade. 126 more words

NHL

Ex-Ottawa Senators goalie Ray Emery identified as man who drowned in Hamilton Harbour

Former Ottawa Senators goaltender Ray Emery has been identified as the man who drowned in Hamilton Harbour on Sunday morning.

Hamilton police said in a statement that the 35-year-old was swimming with friends when he failed to resurface. 395 more words

News

Soorma | Review

If you are a chest-thumping die-hard fan of the Indian Cricket Team, you already know what it feels like to be the nation that dominates one of the most popular sports played across the globe. 1,291 more words

Fresh This Week

सूरमा : संदीप सिंह

बात 2006 हॉकी विश्व कप की है। पसिद्ध हॉकी खिलाड़ी संदीप सिंह 21 अगस्त 2006 को अपनी टीम में शामिल होने के लिए  शताब्दी एक्सप्रेस से यात्रा कर रहे थे। ट्रेन के डिब्बे में बैठे एक जवान ने गलती से अपनी बंदूक निकाली और उससे निकली गोली संदीप सिंह को लग गई। वह बुरी तरह घायल हो गए और उनकी रीढ़ की हड्डी भी फिसल गई। इस वजह से, कमर के नीचे उनका शरीर लकवाग्रस्त हो गया। डॉक्टर ने बताया कि अब लगभग एक साल तक उन्हें व्हील चेयर पर रहना पड़ेगा।

लेकिन संदीप सिंह ने आशा नहीं खोई और उन्होंने जल्द ही ठीक होने का फैसला किया। 3 साल के विशाल मानसिक और शारीरिक संघर्ष के बाद, सन 2009 में वह एक विजेता के रूप में फिर से मैदान पर वापस आए। उनकी यह वापसी कोई सामान्य वापसी नहीं थी। 2009 में ही सुल्तान अजनान शाह कप में सबसे ज्यादा गोल दागने वाला खिलाड़ी, फिर मैन ऑफ दी टूर्नामेंट का अवार्ड और अपनी कप्तानी में भारत को जीत दिलाना। सन 2010 में अर्जुना अवार्ड। और उसके बाद और भी कई सफलताओ की श्रृंखला। अगर तकनीक की बात करें, तो वह 145 किमी प्रति घंटा की रफ्तार के साथ दुनिया में सबसे तेज़ ड्रैग फ़्लिकर बन कर उभरे। इसी कारण से वह फ्लिकर सिंह के रूप में प्रसिद्ध हैं।

एक विश्व स्तरीय खिलाड़ी को जीवन में एक खतरनाक दुर्घटना का सामना करना पड़ता है, वह खिलाड़ी इससे उबरकर फिर सफलताओं के नए कीर्तिमान स्थापित करता है और सभी के लिए एक प्रेरणा स्रोत बन जाता है। इसी आधार पर एक बायोपिक फिल्म बनाई गई, “सूरमा”, जो पिछले हफ्ते रिलीज भी हुई। यह बायोपिक पहले दिन केवल 3.5 करोड़ की कमाई कर पाई।

कुछ दिन पहले एक ड्रग एडिक्ट, लोफर, आतंकवादी से संबंध रखने वाला अपराधी, लेकिन कालजयी अभिनेता और दिल का अच्छा इंसान संजय दत्त उर्फ संजू पर भी एक फ़िल्म बनी और लोग इसे देखने के किये लंबी-लम्बी लाइनों में खड़े हुए। फ़िल्म पहले दिन 34.75 करोड़ कमाई और 15 दिनों के भीतर 300 करोड़ पार कर गयी।

यह तथ्य बहुत शर्मनाक है और काफी खतरनाक भी। कहीं ऐसा तो नहीं कि हम एक विश्व स्तरीय खिलाड़ी, जो सभी बाधाओं को पार कर एक अपने अथक प्रयास और संघर्ष से एक विजेता बनकर उभरा, उसके बारे में जानने के बजाय, एक “अपराधी लेकिन दिल का अच्छा आदमी” के आधार पर बनी फिल्म देखने में ज्यादा इच्छुक हैं? या ऐसा कि हमें क्या जानना है और क्या देखना है, शायद यह हम नहीं, कोई और जैसे मीडिया, एडवरटाइजिंग कंपनी इत्यादि तय कर रही है? सौ बात की एक बात यह है कि आपको क्या देखना है और क्या देखना चाहिए, यह आपका अधिकार है,  और इसे आप खुद तय करेंगे बल्कि कोई मीडिया हाउस या कोई एजेंडाबाज नहीं| परंतु हम जो भी देखना चाहते हैं, यह इस बात को निर्धारित करेगा कि आगे कैसी फ़िल्मे बननी चाहिए। उम्मीद है कि वंस अपॉन अ टाइम इन मुम्बई, रईस, कंपनी या संजू, इस तर्ज पर और भी कई फिल्में आएगी और हम एंटरटेनमेंट के नाम पर सिनेमा हॉल में पॉपकॉर्न खाते हुए इन फिल्मों का लुफ्त  आगे भी उठाते रहेंगे।

वैसे कुछ दिन पहले एक मूवी आई थी.. परमाणु.. आपने देखा क्या?

मुझे इसका जबाब पता है|

Random Thoughts