Tags » Judai Shayari

Jindagi Mein Aaj Yun Tanhaai

Jindagi Mein Aaj Yun Tanhaai Na Hoti
Muskuraate Labon Pe Ghum Ki Parchaai Na Hoti
Jhilmilaate Hum Bhi Mohabbat Ki Roshni Mein
Agar Wafa Ke Naam Pe Teri Bewafaai Na Hoti

Shayri Ki Diary

Jitna Sitam Karlo Hare Saath

Jitna Sitam Karlo Hare Saath,
Magar Koi Na Milega Hamsa Yaar,

Chhod Do Hame Bich Raah Par
Beshak, Magar Khush Na Rahoge
Kabhi Hamare Gairo Ke Saath.

Shayri Ki Diary

Humne Pyar Nahi Ishq Nahi Ibaadat

Humne Pyar Nahi Ishq Nahi Ibaadat Ki Hai,
Rasmon Se Riwajon Se Bagawat Ki Hai,
Manga Tha Hum Ne Jise Apni Duaaon Me,
Usi Ne Mujhse Juda Hone Ki Chahat Ki Hai.
हमने प्यार नहीं इश्क नहीं इबादत की है,
रस्मों से रिवाजों से बगावत की है,
माँगा था हमने जिसे अपनी दुआओं में,
उसी ने मुझसे जुदा होने की चाहत की है।

Judai Shayari

Jiski Aankhon Mein Kati Thi Sadiyan,
Usne Sadiyon Ki Judai Di Hai.

जिसकी आँखों में कटी थी सदियाँ,
उसने सदियों की जुदाई दी है।

Judai Shayari

जुदाई शायरी 

सजदों में सिसकता देखो. ..

आओ किसी शब मुझे टूट के बिखरता देखो,

मेरी रगों में ज़हर जुदाई का उतरता देखो,

किस किस अदा से तुझे माँगा है खुदा से,

आओ कभी मुझे सजदों में सिसकता देखो।

सोचा था कि मिटाकर . ..

सोचा था कि मिटाकर सारी निशानी तेरी,

चैन से सो जायेंगे ।

बंद आँखो ने अक्स देखा तेरा,

तो बेचैन दिल ने पुकारा तुझको ।

उस शख्स को बिछड़ने .. .

उस शख्स को बिछड़ने का सलीका नहीं आता,

जाते जाते खुद को मेरे पास छोड़ गया…।

हर मुलाक़ात पर वक़्त का .. .

हर मुलाक़ात पर वक़्त का तकाज़ा हुआ,

हर याद पर दिल का दर्द ताज़ा हुआ ।

सुनी थी सिर्फ लोगों से जुदाई की बातें,

खुद पर बीती तो हक़ीक़त का अंदाज़ा हुआ ।

ऐ चाँद चला जा क्यूँ आया है . ..

ऐ चाँद चला जा

क्यूँ आया है तू मेरी चौखट पर,

छोड़ गया वो शख्स

जिस के धोखे मे तुझे देखते थे ।

Hindi Shayari