Tags » Lalu Prasad Yadav

आज गिले-श‍िकवे दूर करने के लिए मुलायम से मिलेंगे लालू, दे सकते हैं ज्यादा सीटों का ऑफर

भले ही मुलायम सिंह यादव की समाजवादी पार्टी ने बिहार में जनता परिवार से अलग होकर अपने दम पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है, लेकिन राष्ट्रीय जनता दल और जेडीयू ने अब भी मुलायम को मनाने की उम्मीद नहीं छोड़ी है.

सभी मुद्दे सुलझा लेंगे: केसी त्यागी
आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद शुक्रवार को मुलायम से मुलाकात करेंगे और उन्हें जनता परि‍वार में शामिल रहने के लिए मनाएंगे. जेडीयू के महासचि‍व केसी त्यागी ने बताया कि लालू शुक्रवार को मुलायम से मिलेंगे और सभी मुद्दे सुलझा लिए जाएंगे. लालू ने सपा को पांच सीटों की पेशकश की थी, लेकिन अब सूत्रों की मानें तो वह मुलायम सिंह यादव को मनाने के लिए ज्यादा सीटों का ऑफर दे सकते हैं.

लालू को भी उम्मीद
इससे पहले गुरुवार को खुद लालू ने कहा था कि मुलायम सिंह जनता परिवार के अभ‍िभावक हैं और उनके रिश्तेदार है इसीलिए वह उनको मना लेंगे. जेडीयू के अध्यक्ष शरद यादव ने भी कहा कि वह सपा को जनता परिवार से बाहर नहीं जाने देंगे. उन्होंने कहा कि सभी मुद्दों को जल्द सुलझा लिया जाएगा.

‘मेरे पास ऐसी समस्याओं को हल करने का तजुर्बा’
शरद यादव ने कहा, ‘हमारा गठजोड़ अटूट है और अटूट रहेगा. मैं जल्द ही मुलायम सिंह यादव से बात करूंगा.’ यादव ने हालांकि सपा के आरोपों पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया और कहा, ‘हम जानते हैं कि समस्या हमारे दरवाजे तक आ गई है और हमें मालूम है कि इसे कैसे हल करना है. मेरे पास ऐसी समस्याओं से निपटने का बड़ा तजुर्बा है.’

Srishtanews

लालू ने की मोदी की मिमिक्री |

पटना. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मिमिक्री (नकल) करते हुए उन पर जमकर निशाना साधा है। बिहार विधानसभा चुनाव से पहले पटना में बुधवार शाम एक रैली में लालू ने कहा- मोदीजी ठीक से बोलो नहीं तो गले की नस फट जाएगी। उन्होंने मोदी के उस स्पीच की नकल की जो पीएम ने आरा में बिहार को स्पेशल पैकेज का एलान करते वक्त दी थी।

क्या कहा लालू ने?

लालू ने न केवल मोदी की स्पीच की नकल उतारी, बल्कि उनके अंदाज की भी मिमिक्री की। कहा- क्या बोले थे…भाइयो और बहनो…भाइयो बहनो…बिजली आई…..बिजली मिली कि नहीं…? अरे मोदीजी! ठीक से बोलो नहीं तो नस फट जाएगा यहां का (गले पर इशारा करते हुए)। ऐसा कोई प्रधानमंत्री देखा क्या हम लोगों ने…50 करोड़…70 करोड़…90 करोड़…कितना दें…ओओओओ…विद्यार्थी परिषद का आदमी आगे बैठकर..मोदी मोदी मोदी…करता है…हम लोग नहीं समझते हैं…गजब हाल है भाई। आप बोलते कि हम 5 करोड़ नौजवानों को नौकरी देने की बात किया था, हम झूठा हैं, नहीं पूरा किया। 15-15 लाख सबको देने की बात कही थी… बैंक में नेताओं का पैसा है..आरएसएस ने कहा था कि मेरा भी पैसा है।

नीतीश भी उठा चुके हैं सवाल

आरा में बिहार को स्पेशल पैकेज एलान को लेकर लालू की मिमिक्री से पहले सीएम नीतीश कुमार ने भी मोदी पर सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा था कि पीएम बिहार के लिए पैकेज का एलान ऐसे कर रहे थे जैसे वह राज्य की बोली लगा रहे हों। क्या सरकारी प्रोग्राम में ऐसा होता है कितना दे दें, 50 हजार, 60 हजार,70 हजार… ऐसा कहीं होता है क्या?

Srishtanews

चारा घोटाला मामले में RJD प्रमुख लालू यादव को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

बिहार विधानसभा चुनाव से पहले राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा है. सोमवार को चारा घोटाला मामले में सीबीआइ की याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को नोटिस जारी किया है. सीबीआइ ने झारखंड हाईकोर्ट की ओर से लालू यादव पर से कुछ आरोप हटा देने के फैसले के खिलाफ याचिका दायर की है. इससे पहले हाईकोर्ट ने नवंबर 2014 में लालू को राहत देते हुए उन पर लगे घोटाले की साजिश रचने के आरोप हटा दिए थे.

हाईकोर्ट ने फैसले में कहा था कि एक ही अपराध के लिए किसी व्यक्ति को दो बार सजा नहीं दी जा सकती है. इस फैसले के आठ महीने बाद केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआइ ने झारखंड हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ जुलाई में सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर की थी. हालांकि हाईकोर्ट ने फैसले में यह भी कहा था कि लालू यादव के खिलाफ आइपीसी की दो अन्य धाराओं के तहत मुकदमा जारी रहेगा. सीबीआइ की अपील का समय इस लिहाज से महत्वपूर्ण है कि आने वाले कुछ महीनों में बिहार में विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में सूबे की सियायत में जोरदार वापसी का रास्ता तलाश रहे राजद सुप्रीमो पर इस केस का कितना असर पड़ सकता है, यह तो वक्त ही बतायेगा.

गौर हो कि 950 करोड़ के चारा घोटाले के आरसी/20 ए/96 केस में लालू प्रसाद यादव के अलावा बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्र, जेडीयू सांसद जगदीश शर्मा समेत 45 आरोपी हैं. इस सभी पर चाईबासा कोषागार से 37.7 करोड़ रु पये की अवैध निकासी का आरोप है. 1995 में सीएजी रिपोर्ट के इस मामले की बात उजागर हुई थी. प्रारंभिक जांच में एक साल में 39 करोड़ रु पये की अवैध निकासी सामने आई. साथ ही दूसरे जिलों में भी गड़बड़ी की शिकायतें प्रकाश में आयी थी. 1996 में हाईकोर्ट ने सीबीआइ जांच के आदेश दिये गये. उल्लेखनीय है कि 1997 में घाटाले के चलते लालू प्रसाद यादव को जेल भी जाना पड़ा.

Bihar elections-is the RJD-JD(U) alliance still formidable?

The Bihar assembly elections will be a hard fought one. There are several stake holders and each party would attempt to outdo each other in this battle for Bihar. 103 more words

Vicky Nanjappa

The Hindu - Lalu Prasad leads march for caste census data

Bihar Chief Minister Nitish Kumar accuses the BJP of ‘fraud and double standards’

Amarnath Tewary

Patna, 14 July 2015. RJD chief Lalu Prasad on Monday led a march to the Raj Bhawan here, demanding that the Centre release the findings of the Socio Economic and Caste Census 2011 on caste — a demand backed by Bihar Chief Minister Nitish Kumar. 40 more words

News

Legislative council results show 'countdown of Lalu, Nitish has begun': BJP

Bengaluru, July 10 (ANI): Union Minister for Chemicals and Fertilisers Ananth Kumar on Friday said the countdown of Bihar Chief Minister Nitish Kumar and Rashtriya Janata Dal (RJD) supremo Lalu Prasad Yadav has begun following the verdict of the state’s legislative council elections in…

B’day Spl: Interesting facts to know about Lalu Prasad Yadav

Today is 67th Birthday of RJD president and former Railway Minister Lalu Prasad Yadav. Lalu Prasad Yadav is an Indian politician from the state of Bihar. 71 more words

B’day Spl