Tags » Mohabbat

Mohabbat aapki

“Chehra humara …… noor aapki

Hooth humare …… mushkan aapki 

Dil humara ……… jaan aapki 

Sukoon humara …… mohabbat aapki”

Sacha Ishq

Har sache ishq karne wale ko manzil miljathi tho koi ibaadat kartha hi kyu…

Sirf ibaadat karnewale ko jannat mil jathi tho koi dusre ki madat karta hi kyu…

मोहब्बत

Copyright © 2015-2017 by SumitOfficial

All Rights Reserved.

Love

मुख़्तसर

Copyright © 2015-2017 by SumitOfficial

All Rights Reserved.

Love

दर्द-ऐ-जिंदगी

छोड़ो अब और क्या कहना,
उसे बेवफ़ा कहके हमें क्या है मिलना,
लोगो ने तो पहले ही कहा था
      ये मंजिल है मुश्किल काफ़िर् को मिलना,
दिल ही तो टुटा है अब किसी को क्या कहना,
अभी बाकी है जिंदगी इसी दर्द के साथ जीना।
Love

Ek ghazal.

जो अधूरी छोड़ दी थी लिखकर कहीं
वो ग़ज़ल अब शायद मुकम्मल हो जाये।
एक अरसे से जो क़ैद थी दिल में
वो धड़कन अब शायद खो जाये।
कोई और नशा महसूस नहीं होता
जब नसों में इश्क़ लहू हो जाये।
ले रहा है बस उसका नाम बार-बार
ये वो दिल है जिसे दिलबर की आरज़ू हो जाये।
– सहर

तुझे याद ना मेरी आयी...


तुझे याद ना मेरी आयी किसी से अब क्या कहना,
तेरी जम के होगी पिटाई तू भी किसी से ना कहना।
Love