Tags » Mohabbat

Bikhar kar...

Bikhar kar aaj mujhko

kai dilo m fail jaane do…

SAMBHAL kar kisne

jeeti hai kabhi MOHABBAT ki Jung..

Shayar Ka Khwab

मोहब्बत का मिज़ाज़

मोहब्बत का मिज़ाज़ भी बारिश सा हो गया है।
रुक रुक कर आ रही है।।

Mohabbaat ka mizaaZ bhi barish sa ho gya.
Ruk ruk kr aa rhi h

मिज़ाज़

के कोई दिवाना केह्ता है- कुमार विश्वास

कोई दीवाना कहता है, कोई पागल समझता है,

मगर धरती की बेचैनी को बस बादल समझता है।

मैं तुझसे दूर कैसा हूँ, तू मुझसे दूर कैसी है,

ये मेरा दिल समझता है, या तेरा दिल समझता है।

मोहब्बत एक एहसासों की पवन सी कहानी है,

कभी कबीरा दीवाना था, कभी मीरा दीवानी है,

यहाँ सब लोग कहते हैं मेरी आँखों में आँसू हैं,

जो तू समझे तो मोती है जो ना समझे तो पानी है।

समंदर पीर का अंदर है लेकिन रो नहीं सकता,

ये आँसू प्यार के मोती हैं इनको खो नहीं सकता,

मेरी चाहत को दुल्हन तू बना लेना मगर सुन ले,

जो मेरा हो नहीं पाया वो तेरा हो नहीं सकता।

Deewana

Relationship Problems After Affair, Divorce, Violence +91-9166725651

Below, we are discussing with an individual concerning connection issues that is usually come to light right after affair, domestic physical violence, and divorce proceedings. We know adequately in which connection is usually section of life. 660 more words

Khatra Hai

Aish E Umeed Hi Se Khatra Hai..
Dil Ko Ab Dil Dahi Se Khatra Hai..

Hai Kuch Aisa Kay Uski Jalwat Mein..
Hamein Apni Kami Se Khatra Hai.. 119 more words

Urdu

......

Na tu hai, na teri justajoo hai,

Gile-shikwe toh khoob hai magar,

Unn sabse badh kar tu hai!

Gamhon se bhara insaan hun,

Kamzori teri mohabbat hai! 107 more words