Tags » Molest

पुरुष

बस रोज़ की तरह खचाखच भरी थी. एक लड़के ने जो वास्तव में पुरुष था अपनी सीट नहीं छोड़ी बल्कि खूब सिमट कर उसके लिये एक सीट बनाई. वह बैठ गयी. बस चली ही थी कि लड़के की जाँघ का दबाव उसे महसूस हुआ. लड़के की उम्र लगभग उसके बेटे की जितनी थी. बस की गति के साथ यह पुरुषनुमा लड़का उसकी ओर ढलने लगा. उसने अपना ध्यान हटाने की कोशिश की.
बस में केवल तीन औरतें और थी. उंनके साथ के पुरुषों ने उन तीनों को अपने हाथों और देह की दीवार में सुरक्षित किया हुआ था. उन तक केवल बहुत सी आँखें पहुँच रही थी. उसे अचानक औरत कि बहुमूल्यता का एह्सास हुआ तो उसने अपने पैर की सहमी हुई मासंपेशी को ढीला कर पुरुषनुमा लड़के की लंपटता के लिए छोड़ दिया.
वह रोज़ के अपने सफर में इस से कहीं ज़्यादा देख चुकी थी- अपने ऊपर ढहता हुआ आदमी, अपने वक्ष में चुभती हुई मर्दाना कुहनी, और इस से भी कहीं ज्यादा. उसे अचानक उस बस में आड़े टेढ़े बैठे खड़े सभी पुरुषों पर तरस आ गया. पुरुषनुमा लड़के पर भी. अपने पुरुष बन रहे बेटे पर भी. ख़ास तौर से अपने पति पर, जो घर पहुँचते ही उस से, क्या रहा, कैसा रहा, जैसे कुछ सवाल पूछेगा, इस मक़सद से कि किसी पुरूष से तो मुलाकात नहीं हुई थी.
वह बस से उतरी तो उसके चेहरे पर हँसी जैसा कुछ था,जो हँसी नहीं थी.

India

AFIA Schwarzenegger Jubilate OVER JOSH LARYEA’S SUSPENSION

Radio/TV Presenter Afia Schwarzenegger is happy over someone else’s misfortune.

The “Angel TV” Host has shared a post on Instagram indicating her joy over the suspension of Pastor and Gospel Musician Josh Laryea from International Central Gospel Church for immoral conduct. 144 more words

बैंगलोर में हुई सामूहिक छेड़छाड़ की घटना के लिए कौन ज़िम्मेदार

Dheeraj Mishra

मंटो ने एक बार कहा था कि, “मुझे तहज़ीब, तमद्दुन(सभ्यता) और समाज के कपड़े उतारने की ज़रूरत नही है, यह समाज पहले से ही नंगा है।” 29 more words

India

FAME & SHAME OF BARSANA

Barsana
Holi the festival of colours is one of the most popular Indian festival .Holi celebrated in India since thousands of years. While Holi is celebrated in almost every part of India, Although Holi at Barsana is most popular one too… 1,665 more words

Holi - A Struggle Between Color And Valor

The dreadful day is here, the day of color and splash yet again
Of all the smiles I gathered through the year, it will drain… 85 more words

Thoughts

Story #11

A confession
I stood there motionless,while He touched my breasts.

He said I was pretty and called me closer.

My mom warned me repeatedly to stay away from strangers, but he wasn’t one. 268 more words

Short Stories