Tags » Muslim World

Islam in Bangladesh and world

               Muslim world

The terms and Islamic world commonly refer to the unified Islamic community (Ummah), consisting of all those who adhere to the religion of  385 more words

.1Islamic Schools And Branches

रमजान रहमतो व बरकतों का महीना है

रमजान  रहमतो व बरकतों का महीना है इस महीने में अल्लाह की रहमत

बरसती है रोजे के दौरान आप अल्लाह की इबादत करते हैं। इसके बदले में अल्लाह आपको सेहत से नवाजता है। रोजा इस्लाम के पांच फरायज (इबादतों) में से एक है। ऐसे व्रत या फास्ट का सभी धर्मों में किसी न किसी रूप में जिक्र है। लेकिन इस्लाम में पूरे एक महीने का रोजा फर्ज करार दिया गया है। माह-ए-रमजान का चांद दिखाई देने के बाद से यह शुरू होता है। कुरान में भी अल्लाह फरमाते हैं कि हमने तुम पर रोजा फर्ज किया है, लेकिन रोजा सिर्फ भूखे प्यासे रहने तक ही सीमित नहीं है। रमजान पाबंदी का महीना है। इसमें इंसान को अपने अंदर की छुपी हुई गलत आदतों पर काबू पाना और अल्लाह की इबादत में मशगूल रहना होता है। रमजान के इस मुबारक महीने की मिसाल ठीक उसी तरह है, जिस तरह इंसान के आखिरत की जिंदगी (मौत के बाद) की तैयारी के लिए उसे इस दुनिया की जिंदगी अता की गयी है। ठीक उसी तरह इस दुनिया में हर साल एक महीना रमजान का रखा गया है। 11 more words

Muslim World

US inaugurates embassy in Jerusalem, faces reprisal from Gaza. Renewing 2004 dispute or settling it for once and for all?

A deadly clash broke when United States inaugurated its contentious Jerusalem embassy on May 14, 2018. Donald J. Trump addressed the ceremony via video link… 358 more words

Trending/Live 🔥

हरियाणा वक्फ बोर्ड नमाज़ के लिए अपनी जमीन देगी

हरियाणा में गुड़गांव और कुछ अन्य स्थानों पर खुले में नमाज में पढ़ने का कुछ हिंदूवादी संगठन द्वारा विरोध किए जाने की वजह से पैदा हुए विवाद के स्थायी समाधान के लिए राज्य वक्फ बोर्ड ने अपने अधिकार क्षेत्र के भूखंडों का इस्तेमाल करने का फैसला किया है. राज्य के वक्फ बोर्ड ने नमाज के लिए अपने अधिकार क्षेत्र के तहत आने वाले भूखंडों को चिन्हित करने का काम शुरू भी कर दिया है. उसका कहना है कि सिर्फ गुड़गांव में उसकी 20 ऐसी जगहें हैं जिनका इस्तेमाल नमाज के लिए हो सकता है, हालांकि इनमें से कुछ संपत्तियों पर अतिक्रमण है. हरियाणा वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष रहीश खान ने बताया, ‘‘हम राज्य में इन इलाकों में अपनी संपत्तियों को चिन्हित कर रहे हैं जिनका इस्तेमाल जुमे की नमाज के लिए हो सकता है. गुड़गांव में हमने ऐसी 20 संपत्तियों को चिन्हित किया है. इनमें से कुछ पर अतिक्रमण है और हम प्रशासन के साथ मिलकर इस अतिक्रमण को हटाने की कोशिश कर रहे हैं.’’

हाल ही में गुड़गांव में कुछ इलाकों में खुली जगह पर जुमे की नमाज पढ़े जाने का कुछ हिंदूवादी संगठनों ने विरोध किया था. इसको लेकर विवाद उठ गया था. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा था कि नमाज मस्जिदों और ईदगाहों में ही पढ़ी जानी चाहिए. बाद में प्रशासन ने जुमे की नमाज के लिए कुछ स्थान चिन्हित किए, हालांकि कुछ संगठन इसका विरोध कर रहे हैं. रहीश खान के मुताबिक, हरियाणा में वक्फ बोर्ड के पास करीब 12 हजार संपत्तियां हैं और इनमें से लगभग चार हजार पर अतिक्रमण है जो बोर्ड के लिए बड़ी समस्या है.

उन्होंने कहा कि वक्फ संपत्तियों के लीज संबंधी नियमों में स्पष्टता नहीं होने की वजह से राज्य वक्फ बोर्डों को काफी दिक्कत हो रही है और खासकर राजस्व में वृद्धि नहीं हो पा रही है. गौरतलब है कि केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय ने लीज संबंधी नियमों की समीक्षा के लिए पांच सदस्यीय समिति का गठन किया है।

CNN: Who speaks for American Muslims?

Who speaks for American Muslims? The short answer is, no one.

No individual or group can claim to speak for this country’s nearly 3.5 million Muslims, a diverse and dynamic population that’s expected to double by 2050. 230 more words

Americas

Freemasonry: Aims & Objectives

Freemasonry: Aims & Objectives

Zulkalam

The wretched Jews opposed the anbiya علیہم السلام of Allah Ta’aala and belied their teachings, martyred them, tried to kill Hazrat Eesa علیہ السلام on the cross, continued delivering pains to the Prophet ﷺ whole life continued to break agreements. 584 more words

Afghan Taliban

The Rohingya - Subjects of a heinous ethnic exclusion based on lies and incitement

The Muslim minority of the ethnic Rohingya intermittently fills the media and human rights reports in reference to their dreary situation under ethnic persecution that includes the burning of villages and mosques, murder, rape and even live incineration. 2,162 more words

Muslim World