Tags » News In Hindi

यूपी चुनाव से पहले बीजेपी का नया जुमला

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर बीजेपी ने नया पासा फेंका है। OBC को लुभाने के लिए मोदी सरकार ने अपने ही मंत्री को सरकार के खिलाफ और सरकार से मांग करने की रणनीति अपनाई है। मोदी सरकार में सामाजिक न्याय अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने अब ओबीसी क्रीमी लेयर का राग अलापना शुरू कर दिया है। इस राग के पीछे बीजेपी की पूरी रणनीति क्या है यह बताने से पहले बताना चाहूंगा की उत्तर प्रदेश में करीब 40 फीसदी आबादी OBC है। मोदी की नजर इस वोट बैंक में सेंध मारने की है। इसलिए मोदी के अपने ही मंत्री अब OBC हित की बात करने लगे हैं।

OBC क्रीमी लेयर का अलाप

मोदी कैबिनेट में नवनियुक्त मंत्री और रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के प्रमुख रामदास अठावले ने ओबीसी क्रीमी लेयर की आय सीमा बढ़ाकर 10 लाख करने की मांग की है। वर्तमान में OBC क्रीमी लेयर के लिए आय सीमा 6 लाख रुपए है। अठावले ने कहा कि आय सीमा बढ़ाने की मांग को लेकर वे पीएम मोदी से बात करेंगे। अठावले ने कहाकि लोगों का इनकम बढ़ा है इसलिए आय सीमा को भी बढ़ाने की जरूरत है।बता दें वर्तमान में जिस पैरेंट्स का इनकम सालाना 6 लाख रुपए से ज्यादा है उन्हें क्रीमी लेयर में शामिल किया गया है।
वोट बटोरने की साजिश

यहां एक बड़ा सवाल उठता है कि बीजेपी केंद्र में बहुमत में है। ओबीसी क्रीमी लेयर आरक्षण की मांग लगातार जारी है। ओबीसी क्रीमी लेयर आरक्षण की मांग पर ना तो केंद्र सरकार ध्यान दे रही है ना ही इसको लेकर कानून में बदलाव की तैयारी हो रही है। इससे साफ पता चलता है कि बीजेपी का मकसद किसी तरह उत्तर प्रदेश चुनाव में ज्यादा से ज्यादा वोट बटोरना है ना कि OBC क्रीमी लेयर के लिए आरक्षण की मांग करना है।

आरक्षण की मांग को लेकर सभी दलित-आदिवासी सांसद पीएम से मिले। जानें क्या कहा था उन्होंने..

Breaking News In Hindi

अब दयाशंकर सिंह की मां तेतरा देवी ने मायावती को कहे अपशब्द, वीडियो वायरल!

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के पूर्व बीजेपी उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह द्वारा बीएसपी सुप्रीमो मायावती को गाली दिए जाने के बाद अब उनकी मां ने मायावती के लिए अपशब्द का इस्तेमाल किया है। दयाशंकर की मां तेतरा देवी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में तेतरा देवी मायावती और उनके आस-पास रहने वाले लोगों के लिए भंगी शब्द का इस्तेमाल कर रही हैं। 

मायावती के आस-पास भंगी रहते हैं

इस वीडियो में दयाशंकर सिंह की मां तेतरा देवी बोल रही हैं। मीडिया वालों ने जब तेतरा देवी से मायावती और अन्य लोगों के नाम के बारे में पूछा तो वह बोलीं कि मायावती के आस-पास भंगी रहते हैं, वह सबके नाम नहीं जानती हैं। 

तेतरा देवी को नसीमुद्दीन सिद्दीकी का नाम रटाया

तेतरा देवी जब मीडिया वालों से बात कर रही थीं, तब उनके बगल में एक शख्स बैठा था। वह बार-बार नसीमुद्दीन सिद्दीकी को मायावती का नाम लेने के लिए बोल रहा है। पत्रकारों ने जब तेतरा देवी से पूछा कि आपने और किसपर एफआईआर दर्ज करवाया है तो उनके बगल में बैठे शख्स ने उनको नसीमुद्दीन सिद्दीकी का नाम लेने के लिए बोल रहा है। 

भंगी कौन होते हैं?

आपको बता दें कि भंगी एक जाति होती है। कई विशेषज्ञों का मानना है कि भंगी समाज मैला ढोने का काम करते थे। आपको बता दें दयाशंकर सिंह ने मायावती के लिए गाली और अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया था, जिसके बाद बीएसपी समर्थकों ने लखनऊ में दयाशंकर के खिलाफ नारेबाजी की थी। तेतरा देवी ने उसी कथित नारेबाजी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाने के दौरान ये बयान दिया है। ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

Breaking News In Hindi

भाजपाई ने मुझे जान से मारने की धमकी दी है- आप नेता आशुतोष का दावा

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के प्रवक्‍ता और पूर्व पत्रकार आशुतोष दावा किया कि भाजपा के एक सदस्‍य ने उन्‍हें मारने की धमकी दी है। आप नेता ने गुरुवार को कहा कि सुरक्षा एजेंसियों में मौजूद सूत्रों ने उन्‍हें चेताया है कि वे रात में राजनीतिक रैलियां ना करें। साथ ही अंधेरा होने के बाद मेन रोड पर जाने से भी बचें। पार्टी दफ्तर में पत्रकारों से बात करते हुए उन्‍होंने कहा कि भाजपा की आर्इटी सेल के एक सदस्‍य ने उन्‍हें जान से मारने की धमकी दी है। अरविंद केजरीवाल के बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा उन्‍हें मारे जाने की आंशका जताने के बयान को भी उन्‍होंने सच बताया।

इससे पहले बुधवार को आप ने एक वीडियो जारी किया था। इसमें केजरीवाल ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उन्‍हें जान का खतरा है। केजरीवाल ने यूट्यूब पर एक 10 मिनट के एक वीडियो संदेश में मोदी और केन्‍द्र सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। केजरीवाल ने अपने संदेश में कहा ”हमारे एक सांसद भगवंत मान को सस्‍पेंड करा दिया। सत्‍येन्‍द्र सिंह, मनीष सिसोदिया की जांच चल रही है। लोग मुझसे कहते हैं कि आप हर बात के लिए मोदी जी को जिम्‍मेदार ठहरा देते हैं, लेकिन मैं यह समझना चाहता हूं कि यह सब कौन करा रहा है। अगर इनकम टैक्‍स, सीबीआई, दिल्‍ली पुलिस एक साथ पीछे पड़े हैं तो इनके ऊपर कोई तो मास्‍टरमाइंड होगा, यह मास्‍टरमाइंड कौन है? क्‍या वह अमित शाह हैं, या मोदी जी हैं या फिर PMO। ये सब एक साथ हैं। मोदी जी के कहने पर अमित शाह यह सब करवा रहे हैं।”

इसी बीच दिल्‍ली के पूर्व मंत्री और आप विधायक ने कहा कि उन्‍हें  राजनीतिक विरोधियों से उन्‍हें जान का खतरा है। विधायक असीम अहमद खान ने इस संबंध में गृह मंत्री, गृह सचिव और अन्‍य लोगों को खत लिखा है और जान के खतरे का अंदेशा जताया है। खान ने अपने खत में आप विधायक इमरान खान और पूर्व विधायक शोएब इकबाल उनके राजनीतिक दुश्‍मन हैं। प्रेस कांफ्रेंस में उन्‍होंने कहा, ”केजरीवाल के चेहरे से नकाब जल्‍द ही उतर जाएगा।”

Breaking News In Hindi

दलित महिला आईएएस ने शिवराज को चिट्ठी लिख मांगी इच्छा मृत्यु

भोपाल। निलंबित आईएएस शशि कर्णावत ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को चिट्ठी लिखकर इच्छामृत्यु की मांग की है। कर्णावत ने चिट्ठी में लिखा है कि वो 3 साल से न्याय के लिए गुहार लगा रही है, लेकिन सरकार से सिवाए भरोसे के कुछ नहीं मिला और अब उनका न्याय पर से भरोसा उठ गया है।

शशि कर्णावत की मानें तो वो पिछले कई दिनों से शिवराज सिंह चौहन से मिलना चाह रही हैं, लेकिन उन्हें सिर्फ आश्वासन दिए जा रहे हैं। कर्णावत के मुताबिक बुधवार को भी उनकी सीएम से मुलाकात तय थी, लेकिन उसको रद्द कर दिया गया, जिसके बाद उन्होंने इच्छा मृत्यु के लिए सीएम को चिट्ठी लिखी है।

शशि कर्णावत ने शिवराज सरकार पर आरोप लगाया कि उनके दलित होने के कारण ही उनके साथ अन्याय हो रहा है। इससे पहले भी कर्णावत कई बार सरकार को खरी-खोटी सुना चुकी हैं। इसी साल जनवरी में कर्णावत एक और दलित आईएएस रमेश थेटे के साथ भोपाल में धरने पर बैठ चुकी हैं।

Breaking News In Hindi

India to buy US surveillance aircraft

अमेरिका से निगरानी विमान खरीदेगा भारत

भारत-अमेरिकी रक्षा संबंधों निरंतर मजबूत होते जा रहे हैं। भारत ने अमेरिकी रक्षा और एयरोस्पेस क्षेत्र की कंपनी बोइंग के साथ लंबी दूरी तक समुद्री निगरानी करने में सक्षम और पनडुब्बी रोधी युद्धक चार अतिरिक्त विमान ‘पोसाइडन-8I’ की खरीद के लिए एक अरब डॉलर से अधिक के सौदे पर हस्ताक्षर किए। 7 more words

Latest Hindi News

ऊना की घटना से नाराज गुजरात के 1000 दलित अपनाएंगे बौद्ध धर्म

अहमदाबाद। गुजरात के उना में दलितों की पिटायी के मददेनजर बनासकांठा जिले में समुदाय के कम से कम 1000 लोगों ने बौद्ध धर्म अपनाने की इच्छा जतायी है। उनका कहना है कि यदि उनसे बराबरी का व्यवहार नहीं किया जाए तो हिंदू धर्म में रहने का कोई मतलब नहीं है।

दलित समुदाय के इन सदस्यों ने फार्म भरा है, जिसमें उन्होंने धर्मांतरण के लिए अपनी सहमति दी है। इस फार्म को जल्द ही सरकार के अधिकारियों को सौंपा जाएगा। इस बीच विभिन्न दलित संगठनों ने यहां 31 जुलाई को समुदाय की एक रैली आयोजित करने का निर्णय किया है, जिसमें उनके आंदोलन के आगे की रूपरेखा तय की जाएगी।

स्थानीय दलित नेता एवं बीडीएस सचिव दिनेश मकवाना ने कहा, उना घटना को लेकर पूरे राज्य के दलित काफी दुखी हैं। यह दिखाता है कि उनसे अभी भी भेदभाव और जाति,धर्म और पेशे के नाम पर विभिन्न अत्याचार होते हैं। इसलिए बनासकांठा से कई दलितों ने बौद्ध धर्म अपनाने की इच्छा जतायी है।

उन्होंने कहा, गत तीन दिनों के दौरान यहां प्रदर्शन रैलियों में हजारों दलितों ने हिस्सा लिया। बैठकों में वे इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि यदि उनसे बराबरी का व्यवहार नहीं हो तो हिंदू धर्म में रहने का कोई अर्थ नहीं है। इसलिए उन्होंने दलितों में फार्म वितरित किये, जो धर्म बदलना चाहें। अभी तक हमारे पास ऐसे 1000 फार्म आये हैं।

Breaking News In Hindi