Tags » News Paper Hindi

रेलवे दे रहा टूर पैकेज, वैट में 10 फीसदी कटौती करने का किया ऐलान

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली । गर्मियों की छुट्टियां शुरू होते ही रेलवे ने यात्रियों को तोहफा देने का फैसला कर लिया है। रेलवे ने टूर पैकेज के तहत यात्रा करने वाले यात्रियों को वैट में 10 फीसदी कटौती करने का ऐलान किया है। इसके जरिए IRCTC पर्यटकों को सस्ती दर पर टूर पैकेज उपलब्ध कराएगा। फिलहाल रेलवे इस योजना को पायलट प्रोजेक्ट के तहत शुरू करने जा रही है। इस पर मिलने वाले रिस्पॉन्स के बाद चरणबद्ध तरीके से इसे पूरी तरह से शुरू कर दिया जाएगा। टेस्टिंग के दौरान अन्य ‘थर्ड पार्टी पेमेंट गेटवे’ भी मौजूद रहेंगे। 8 more words

News Paper Hindi

Samsung Galaxy C7 Pro की कीमत में बड़ी कटौती, जानें नई कीमत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सैमसंग ने पिछले साल Galaxy C7 Pro को भारत में 27,990 रुपये में लॉन्च किया था। इस फोन को सेल्फी लवर्स को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया था। फोन में f/1.9 अपर्चर के साथ 16-मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है। फोन की लॉन्चिंग से अब तक इस स्मार्टफोन की कीमत में 3,000 रुपये की गिरावट आ चुकी है और यह अब तक मार्केट में 24,990 रुपए में मिल रहा था। 27 more words

News Paper Hindi

B’day Spcl: मनोज बाजपेयी ने ऐसे तय किया एक गांव से लेकर बॉलीवुड तक का सफर

डिजिटल डेस्क, मुंबई। फिल्मों में अपनी बेहतरीन एक्टिंग और किरदार से दर्शकों का दिल जीतने वाले एक्टर मनोज बाजपेयी का आज 49वां जन्मदिन है। उनका जन्म 23 अप्रैल 1969 को बिहार के नरकटियागंज में हुआ था। मनोज बाजपेयी ने 1994 में फिल्म बैंडिट क्वीन से फिल्मों की दुनिया में कदम रखा था। स्ट्रगल से भरे करियर में कड़ी मेहनत कर अपना मुकाम हासिल किया। आइए जानते हैं उन्होंने कैसे बिहार के एक गांव से निकल कर फिल्म इंडस्ट्री में अपनी अलग पहचान बनाई।


बिहार के बेलवा गांव में हुआ था जन्म

मनोज बाजपेयी का जन्म बिहार के बेलवा गांव में हुआ था। उनके पिता किसान और मां गृहणी थीं। मनोज बाजपेयी पांच भाई बहन हैं। मनोज ने अपने जीवन में काफी संघर्ष किये हैं। उन्हें बचपन से ही फिल्मों का काफी शौक था और इसी सपने को पूरा करने के लिए काफी स्ट्रगल करना पड़ा। मनोज ने शुरुआती दौर में दिल्ली यूनिवर्सिटी में कई नाटक छोटे-मोटे किए।


एक दिन में मिले तीन रिजेक्शन

मनोज के मुताबिक कड़े संघर्ष के बाद उन्हें एक टीवी शो में काम करने का मौका मिला लेकिन पहले टेक में ही रिजेक्ट हो गए। इसके बाद उन्हें एक फिल्म में छोटा सा किरदार मिला लेकिन वहां पहुंचने पर पता चला कि वो रोल किसी और को दे दिया गया।


बैरी जॉन के साथ काम करने के बाद चमका सितारा

मनोज नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा का हिस्सा बनना चाहते थे लेकिन चार बार कोशिश करने के बाद भी उन्हें एडमिशन नहीं मिला। इसके बाद उन्होंने थियेटर गुरू और रंगकर्मी बैरी जॉन से क्लासेज लीं और वो मनोज के काम से काफी प्रभावित हुए। बैरी जॉन के साथ काम करने के बाद मनोज ने दोबारा नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में अप्लाई किया लेकिन इस बार उन्हें एडमिशन नहीं बल्कि फैकल्टी का हिस्सा बनने का ऑफर मिल गया। इस जॉब में उन्हें 1200 रुपये की सैलरी मिलती थी।

‘बेंडिट क्वीन’ से किया बॉलीवुड में डेब्यू

उन्होंने दूरदर्शन पर प्रसारित होने वाले फेमस सीरियल स्वाभिमान में अभिनय किया। मनोज बाजपेयी ने 1994 में रिलीज हुई फिल्म बेंडिट क्वीन से बॉलीवुड में डेब्यू किया। इसके बाद इसके बाद वो 1996 में आई फिल्म दस्तक में एक पुलिस वाले के रोल में नजर आए। फिल्म दिल पे मत ले यार में पहली मनोज अभिनेत्री तब्बू के साथ बार लीड रोल में दिखाई दिए और उसके बाद सत्या, प्रेम कथा, पिंजर जैसी कई फिल्मों में काम किया। सत्या और पिंजर के लिए उन्हें नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है। उन्होंने अपने प्रोडक्शन के बैनर तले फिल्म मिसिंग का निर्माण किया था लेकिन उनकी ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई।

मनोज की जिंदगी में ऐसे आए बुरे दौर

एक समय ऐसा भी आ गया था जब मनोज बाजपेयी को काम मिलना मुश्किल हो गया था। उन्होंने मुंबई छोड़ने का मन बना लिया था लेकिन सपना पूरा करने की जिद में उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और उन्हें अच्छी फिल्मों के ऑफर मिलने लगे। उन्होंने बड़े पर्दे कर कई किरदार निभाए। उनकी सबसे बेहतरीन फिल्म गैंग्स ऑफ वसेपुर मानी जाती है। जबकि मनोज राजनीति को अपने करियर की सबसे बड़ी फिल्म मानते हैं। उनका मानना है कि इसी फिल्म से उनका करियर वापस पटरी पर आया। उनकी टॉपटेन फिल्मों में गैंग्स ऑफ वसेपुर, सत्या, कौन, राजनीति, स्पेशल 26, पिंजर, अलीगढ़, शूट आउट एट वडाला, तेवर, जुबैदा के नाम शामिल हैं।

2006 में शबाना रजा से की शादी

मनोज की पहली शादी दिल्ली की एक लड़की से हुई थी जो कि ज्यादा दिन तक नहीं चल सकी। दोनों के तलाक के बाद मनोज की मुलाकात एक्ट्रेस शबाना रजा से हुई जो नेहा के नाम से जानी जाती हैं। नेहा फिल्म करीब में काम कर चुकी है। दोनों ने 2006 में शादी की। मनोज की एक बेटी भी है।

Source: Bhaskarhindi.com

News Paper Hindi

ये है रशिया के प्रेसिडेंट पुतिन की नयी गाड़ी, जानें क्या खास है इसमें

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन एक बिल्कुल नयी कार खरीदने के मूड में हैं, और उनके जिंदगी के ऊपर मंडराते हुए खतरे को देखते हुए इस कार में भारी बुलेटप्रूफिंग तो होगी ही। कॉरटेज प्रोजेक्ट नाम से विख्यात ये कार कुछ सालों से विकसित की जा रही है और इसने हाल ही में अपने क्रैश ट्रायल्स को सफलतापूर्वक पूरा किया है। पुतिन को जल्द ही रूस में विकसित की गयी इस कार में देखा जाएगा। बॉश और पोर्से दो कंपनियां हैं जो इस प्रोजेक्ट के अनेक इंजीनियरिंग जरूरतों को पूरा कर रही हैं। ये खासतौर पर बनायी जा रही कार काफी क्लासी दिखती है और फ्रंट ग्रिल से लेकर स्वेपटेल रियर तक, इसे देखकर रॉल्स रॉयस की याद जरूर आती है।

News Paper Hindi

अक्सर रहते है बीमार तो घर में इन चीजों का रखें ध्यान

डिजिटल डेस्क ।  अगर आप अक्सर सर्दी-जुकाम, एलर्जी, सांस की तकलीफ, बदन दर्द जैसी बीमारियों से परेशान रहते हैं, तो हो सकता है कि इन स्वास्थ्य समस्याओं के लिए आस-पास की चीजें ही जिम्मेदार हों। कई बार हम अपने आसपास सही तरीके से साफ-सफाई नहीं रखते जिसका असर हमारे स्वास्थ्य पर पड़ता है। ऐसे में छोटी-छोटी चीजों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है और साफ-सफाई कैसी रखी जाए ये बेहद जरूरी है। आइए जानते हैं किस तरह आप सफाई रख सकते हैं।

टूथब्रश को गीला न छोड़ें

ब्रश करने के बाद गीला टूथब्रश बाथरूम में ही छोड़ देने से उसमें बैक्टीरिया पनपने लगते हैं और ये मुंह में जाकर बीमारी का कारण बन सकते हैं। ऐसे में जरूरी है कि गीला टूथब्रश बाथरूम में न छोड़ें। उसे सुखाकर ही बाहर रखें। डेंटिस्ट की मानें तो, हर  2-3 महीने में टूथब्रश बदलना चाहिए। पुराने टूथब्रश के ब्रिसल्स फैल जाते हैं जिससे दांतों की सफाई सही तरीके से नहीं हो पाती और इनसे संक्रमण की आशंका भी ज्यादा रहती है।

बाथरूम स्क्रब

नहाने के बाद स्क्रबर को बाथरूम में छोड़ देने से उसमें बैक्टीरिया पैदा हो जाते हैं। इसी स्क्रबर को फिर से यूज करने पर यह बीमारी का कारण बनता है।

किचन स्पंज

बर्तन धोने वाले स्पंज में गीलेपन से बैक्टीरिया पनपते हैं। यही बैक्टीरिया बर्तनों में चिपककर बीमारी का कारण बन सकते हैं। ऐसे में जरूरी है कि स्पंज को सुखाकर प्रयोग किया जाए।

फ्रिज की सफाई है जरूरी

एक रिसर्च के अनुसार, फ्रिज में काफी ज्यादा बैक्टीरिया पनपते हैं। ऐसे में जरूरी है कि फ्रिज की सफाई की जाए।

हैंड सैनिटाइजर

बार-बार हाथ साफ करने के लिए हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने से बैक्टीरिया इनके प्रति रेजिस्टेंट हो जाते हैं। ऐंटिबायॉटिक दवाओं का असर कम हो सकता है। जरूरत न हो तो हैंड सैनिटाइजर की जगह साधारण साबुन या पानी से हाथ धोएं।

एसी की जाली करें साफ

एसी की एक रेग्युलर इंटरवल में सफाई न करने से उसमें बैक्टीरिया होने लगते हैं। हर महीने जरूरी है कि एसी की जाली निकालकर सफाई की जाए।

Source: Bhaskarhindi.com

News Paper Hindi

वेंकैया नायडू ने खारिज किया CJI पर विपक्ष का महाभियोग प्रस्ताव नोटिस

NEWS HIGHLIGHTS

  •  । सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ विपक्ष के महाभियोग प्रस्ताव को खारिज कर दिया गया है।
  •  उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने रविवार को संविधानविदों और कानूनी विशेषज्ञों से बातचीत की थी।
29 more words

News Paper Hindi

इस जगह को छोड़, दुनिया में कही नहीं मिलता शुद्ध पानी

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। अक्सर टी.वी के विज्ञापन में या किसी अखबार के विज्ञापन करने से पानी शुद्ध मिलता है, लेकिन दुनिया  में कोई भी आधुनिक तकनीक शुद्ध पानी नहीं दे पाती। जी हां, असल में धरती में 100 प्रतिशत शुद्ध पानी मिलना ना के बरीबर है। जानिए क्या है इसके पीछे कारण।

News Paper Hindi