वर्णों के उच्चारण-स्थान 

  • संस्कृत भाषा में वर्णों के उच्चारण स्थान को अत्यधिक सहज तरीके से प्रस्तुत किया गया है। हमारे आचार्यों ने परिभाषाओं को सूत्रों में पिरोकर सहज एवं आसान बना दिया है। वर्णों के उच्चारण-स्थान सामान्यतः कण्ठ, तालु, मूर्धा, दन्त, ओष्ठ, नासिका और जिह्वा-मूल हैं। उच्चारण-स्थान के आधार पर वर्णों को निम्नलिखित सूत्रों में पिरोया गया है – –
  • 14 more words