दिल मे आज बहुत सी बातें आई
पर उनहें आज भी रहने दो
छुपे हैं कई राज़ उनके दिलों मे
राज़ हैं तो राज़ ही रहने दो |

ना तोडो इस खामोश लय को
खामोश है तो खामोश ही रहने दो
नही रहना इस दुनिया की नवाज़िश मे
अब तेरा आगोश ही रहने दो |

वक़्त की तलब थी की हम बुरे बने
अब जो बुरे हैं तो बुरे ही रहने दो
अफ़सोस कि कुछ ख्वाहिश अधूरी रह गयीं
जो अधूरे हैं तो अधूरे ही रहने दो |