Tags » Rajasthan

लगातार गोलपोस्ट बदल रही है सरकार -- पूर्व सैनिक

ओआरओपी की मांग को लेकर 81 दिनों से आंदोलनरत हैं पूर्व सैनिक

नई दिल्ली (भाषा)। वन रैंक, वन पेंशन (ओआरओपी) पर गुरुवार को भी गतिरोध बने रहने के बीच आंदोलनरत पूर्व सैनिकों ने सरकार पर लगातार गोलपोस्ट बदलते रहने और इस मुद्दे के समाधान के लिए कोई ठोस प्रस्ताव के साथ नहीं आने का आरोप लगाया है।

पूर्व सैनिकों का आरोप है कि सरकार के कुछ लोग योजना को लागू करने के संबंध में इसके वित्तीय प्रभावों के बारे में भ्रमित करने वाले आंकड़े दे रहे हैं। यह पूछे जाने पर कि अगर सरकार ने ओआरओपी की एकतरफा तरीके से अपनी शर्तों के अनुरूप घोषणा कर दी तब क्या होगा, पूर्व सैनिकों के संयुक्त मोर्चा के मीडिया सलाहकार अनिल कौल ने कहा कि अगर यह ओआरओपी की उस परिभाषा के अनुरूप नहीं हुआ जिस पर सहमति बनी है, तब हम इसे स्वीकार नहीं करेंगे। जल्द ही विधानसभा चुनाव का सामना करने जा रहे बिहार में आंदोलनरत पूर्व सैनिकों की विरोध रैली के बारे में पूछे जाने पर भारतीय पूर्व सैनिक आंदोलन के महासचिव कैप्टन वीके गांधी (सेवानिवृत्त) ने कहा कि हम कोई राजनीतिक रुख नहीं अख्तियार कर रहे हैं। लेकिन जनता से कहेंगे कि वे उस पार्टी को वोट दें जो उनके वायदों को पूरा करे। पिछले 81 दिनों से विरोध प्रदर्शन कर रहे पूर्व सैनिकों ने कहा कि सरकार ने उनसे बात करने के लिए सात मध्यस्त भेजे लेकिन सभी ‘भिन्न रियायतें’ को लेकर उनके पास आए।

कौल ने कहा कि हम वार्ता के लिए कहां जाएं। सरकार के लोग पहले एक बात कहते हैं और फिर दूसरे दिन दूसरा बयान देते हैं। वे लगातार गोलपोस्ट बदल रहे हैं। सरकार की ओर से न तो कोईर् स्पष्ट संकेत आ रहा है और न ही कोई ठोस प्रस्ताव

Hindi News

Delhi Diary-On the road II

Back on the road. Back on the dusty roads. For long hours merely a face is to be seen, here a farmer who is out on the fields and here and then a woman, who carries her heavy load. 776 more words

Delhi Diaries

राजकीय चिकित्सा संस्थानों का नियमित निरीक्षण हो -चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री

जयपुर । चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री राजेेन्द्र राठौड़ ने प्रदेश के समस्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को राजकीय चिकित्सा संस्थानों में मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाओं के साथ ही समस्त चिकित्सा सुविधाएं समय पर सुलभ कराना सुनिश्चित करने के लिए नियमित रूप से अपनी अधीन चिकित्सा संस्थानों का निरीक्षण करने के निर्देश दियेे हैं। उन्होंने मलेरिया, डेगू आदि मौसमी बीमारियों के साथ ही स्वाइन फ्लू की स्थिति पर कड़ी निगरानी रखकर इनके रोकथाम एवं उपचार की पुख्ता व्यवस्था करने के भी निर्देश दिये हैं।

Hindi News

पीएमजीएसवाई संविदा प्रपत्र में स्थानीय आवश्यता के अनुसार सुधार की आवश्यता

जयपुर। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में वर्तमान में संवेदक और विभाग के मध्य होने वाले संविदा मैनुअल में क्षेत्रीय परिस्थिति एवं अभियांत्रिकी की आवश्कतानुसार सुधार किए जाने की आवश्यकता है। इसके अलावा संविदा प्रपत्र हिन्दी में भी होना चाहिए ताकि संवेदक उसे भलीभांति समझ सकें।

राजस्थान रूरल रोड डवलपमेंट एजेंसी (आरआरआरडीए) जयपुर की ओर से सार्वजनिक निर्माण विभाग मुख्य अभियंता कार्यालय के सभागार में गुरूवार को हुई कार्यशाला वर्कशॉप फॉर गेंिटंग इनपुट फ्रॉम स्टेकहोल्डर रिगार्डिंग रिविजन आफ मेनुअल ऑन प्रॉक्योरमेंट एण्ड कॉन्टे्रक्ट मैनेजमेंट फोर पीएमजीएसवाईÓ विषयक कार्यशाला में यह बातें सामने आई।

कार्यशाला में संवेदकों द्वारा समय पर भुगतान की समस्या बताए जाने पर मुख्य अभियंता पीएमजीएसवाई श्री के.एल.माथुर ने कहा कि इस स्थिति में संवेदकों को कार्यपूर्णता के लिए समुचित समय प्रदान किया जाएगा एवं समस्या के हल के प्रयास जारी हैं। कार्यशाला में वल्र्ड बैंक के प्रोक्योरमेंट विशेषज्ञ श्री सत्य पाण्ड्या, एनआरआरडी के कन्सल्टेंट श्री ए.के.शर्मा, विभागीय अभियंता एवं संवेदक शामिल थे।

Hindi News