Tags » Rajnath Singh

Arunachal CM asks Modi Rs.12,000 crore as flood aid

New Delhi/Itanagar : Arunachal Pradesh Chief Minister Kalikho Pul on Thursday sought a monetary help of Rs.12,000 crore from Prime Minister Narendra Modi for reconstruction work following latest natural calamities within the state. 12 more words

उत्तराखंड: देहरादून और ऋष‍िकेश तक पहुंची जंगल की आग, तस्करों पर शक की सुई

उत्तराखंड के जंगलों में लगी आग पर करीब 90 दिन बाद भी आग पर काबू नहीं पाया जा सका है. विनाशकारी हालात का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि आग फैलते हुए देहरादून और ऋषिकेश तक पहुंच गई है. आग लगने के पीछे कारण अब तक स्पष्ट नहीं है, लेकिन जो आशंकाएं जताई जा रही हैं उससे लकड़ी माफिया और भू-माफिया पर भी शक की सुई घूमी है.

जंगलों में लगी से आग से उत्तराखंड के सभी 13 जिले प्रभावित हैं. नैनीताल में रामनगर के जंगलों से लेकर देहरादून के शिवालिक रेंज में भी आग का कहर बरपा है.
6000 से ज्यादा कर्मचारी काबू पाने में जुटे
पीएमओ, एनडीआरएफ, गृह और पर्यावरण मंत्रालय स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए हैं. केंद्र की चार सदस्यीय एक्सपर्ट टीम पहले से ही राज्य में मौजूद है और आग पर काबू पाने के लिए एयरफोर्स के MI-17 हेलीकॉप्टरों की मदद भी ली जा रही है. बताया जा रहा है कि आग पर काबू पाने में अभी तीन से चार दिन का समय और लग सकता है. एनडीआरएफ की तीन टीमों के अलावा 6000 से ज्यादा कर्मचारी आग पर काबू पाने की कोशिश में जुटे हैं.
2 फरवरी को सामने आई थी पहली घटना
पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि आग के कारणों की जांच बाद में होगी. अभी प्राथमिकता आग पर काबू पाने की है. इस साल 2 फरवरी को जंगलों में आग लगने की पहली घटना सामने आई थी. साल 2012 में भी उत्तराखंड के जंगलों में ऐसी ही आग लगी थी. तब करीब दो हजार हेक्टेयर वन क्षेत्र में नुकसान हुआ था.
हिमाचल प्रदेश में भी आग का कहर
हिमाचल प्रदेश के जंगलों में भी करीब 400 हेक्टेयर वन भूमि में आग फैली है. राज्य के शिमला, सिरमौर, सोलन, ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर और मंडी जिले आग से प्रभावित हैं. अकेले शिमला में ही करीब 100 हेक्टेयर में आग लगी. शिमला में वन विभाग के कर्मचारी स्थानीय लोगों की मदद से आग पर काबू पाने की कोशिश कर रहे हैं. इस काम में सैटेलाइट की भी मदद ली जा रही है.
जम्मू-कश्मीर के राजौरी में भी आग का कहर देखा जा रहा है. धुंध की वजह से एयरफोर्स के ऑपरेशन में थोड़ी देरी हुई. फिलहाल आग बुझाने की कोशिशें जारी हैं.

ये भी हो सकता है आग लगने का बड़ा कारण
जंगलों में आग लगने के पीछे तरह-तरह की आशंकाएं जताई जा रही हैं. जिनमें से एक वजह लकड़ी माफिया को भी बताया जा रहा है. दरअसल, जंगल की जली हुई और खराब लकड़ी नीलामी के जरिए बेची जाती है. अब तक की आग में हजारों की संख्या में पेड़ जल चुके हैं, उन्हें बेचने से वन विकास प्राधिकरण को काफी पैसा मिलेगा और इससे लकड़ी माफिया को भी बड़ा फायदा होगा. इसके साथ ही आग लगने की वजह से जो जंगल नष्ट हो गए हैं वहां की जमीन दूसरे कामों के लिए बेची जा सकती है, इससे बिल्डर लॉबी को बड़ा फायदा होगा.

National

BJP promises statues to people who want better status!

Adding a new leaf to the politics of empty symbolism and rhetoric, the BJP’s national president Rajnath Singh has promised to build a Buddha statue, bigger than the one in Bamiyan, if voted to power in Uttar Pradesh. 300 more words

Home

PM Narendra Modi expected smooth functionality of Parliament

New Delhi, April 25 : Prime Minister Narendra Modi has expressed hope that the parliament session starting on Monday can interact its business swimmingly.
“In the last session additionally we have a tendency to transacted vital business. 8 more words

Bundelkhand needs long-term policies and investment for its development

This is the press release from Indian Prime Minister’s office

————————————————————-

http://pib.nic.in/newsite/mbErel.aspx?relid=138741

Press Information Bureau
Government Of India

Prime Minister’s Office
(10-April, 2016 18:20 IST ) 974 more words

Dr Yadu Singh

देश बताएगा कौन असहिष्णु -

1. लोकसभा में असहिष्णुता पर बहस की चर्चा का जबाव देते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि कौन असहिष्णु है और कौन सहिष्णु, इसका फैसला देश करेगा।
2. उन्होंने विपक्ष पर देश में असहिष्णुता का बनावटी माहौल खड़ा करने का आरोप लगाते हुए लेखकों, कलाकारों और वैज्ञानिकों से सरकार के सामने अपनी बात रखने के लिए आमंत्रित किया।
3. उन्होंने कलाकारों और साहित्यकारों से लौटाए गए पुरस्कार वापस लेने का भी अनुरोध किया
4. उन्होंने आश्वासन दिया कि जो भी देश की समरसता को बिगाड़ने की कोशिश करेगा, उसकी खैर नहीं होगी।
5. गृह मंत्री ने कहा कि उनकी बात सुनने के लिए सरकार हमेशा तैयार है।

देश

‘భారత్‌ మాతాకీ జై’ అనుకూలంగా బీజేపీ తీర్మానం

‘భారత్‌ మాతాకీ జై’ అనుకూలంగా బీజేపీ తీర్మానం

దిల్లీలో జరిగిన రెండురోజుల బీజేపీ కార్యవర్గ సమావేశంలో ప్రస్తుతం నడుస్తున్న అనేక వివాదాల గురించి చర్చ జరిగినట్లు సమాచారం. జేఎన్‌యూ ఘటన గురించి మోదీ పరోక్షంగా ప్రస్తావిస్తూ, ‘రాజకీయపరమైన విమర్శలను సహించగలం కానీ, దేశానికి వ్యతిరేకంగా మాట్లాడటం మంచిది కాదని’ ఈ సమావేశంలో హితవు పలికారట………..Read More……..