Tags » Rajnath Singh

Dawood Ibrahim is Living Permanently in Pakistan: Rajnath Singh

Home Minister Rajnath Singh said that Dawood Ibrahim has been living permanently in Pakistan, though he may be changing locations in the country. Indian intelligence agencies reportedly have evidence in terms of phone bills, images of his passports, and details of travel by his family members between Pakistan and Dubai. 43 more words

General

Fulfill all promises made: Rajnath Singh

Fulfill all promises made: Rajnath Singh

While the Congress MPs including former Prime Minister Dr. Manmohan Singh was staging a dharna outside the parliament in protest……...Read More………….

जवानो की शहादत के वक्त भी कांग्रेस हंगामा कर रही थी: राजनाथ सिंह

Loksabha News: केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कल लोकसभा में विपक्षी पार्टी कांग्रेस को आतंकवाद के मुद्दे पर करारा जबाब दिया। कांग्रेस के सभी सांसद आतंकवाद के मुद्दे पर हंगामा कर रहे थे। सरकार के इस मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार होने के बावजूद भी कांग्रेस सांसदों के हंगामे से राजनाथ सिंह नाराज हो गए। इसके बाद उन्होंने अपनी सीट से उठकर कांग्रेस को खूब खरी खोटी सुनाई। बता दें कि जब से पंजाब के गुरदासपुर में आतंकवादी हमला हुआ है, कांग्रेस को मोदी सरकार पर हमला करने का मौका मिल गया है। इस मौके का फायदा उठाने के लिए कांग्रेस संसद में जबरजस्त हंगामा कर रही है। इस हंगामे के वजह से संसद का काम प्रभावित हो रहा है। इस सत्र में संसद में एक भी बिल पास नहीं हो सका है और रोजाना 45 लाख रुपये का नुकसान हो रहा है। इसी हंगामे का जबाब राजनाथ सिंह ने अपनी भाषा में दिया। पढ़ें:

राजनाथ सिंह का कांग्रेस को जबाब

राजनाथ सिंह ने कहा कि ‘हम आतंकवाद के मुद्दे पर चर्चा करना चाहते हैं। इसके बावजूद भी कांग्रेस न तो चर्चा करने को तैयार है ना ही कुछ सुनने को तैयार हैं। एक तरफ हमारे देश की सुरक्षा में लगे जवान शहादत दे रहे हैं और कांग्रेस के सांसद उनकी शहादत के वक्त भी संसद में हंगामा करते है। क्या संसद में ऐसा शोर शराबा हमारे देश की सुरक्षा के साथ न्याय है। क्या देश को आतंकवाद के मुद्दे पर विभाजित रहना चाहिए।’ आपको जवानों की शहादत का अपमान करते हुए थोड़ी भी शर्म नहीं आई।

कांग्रेस गृह मंत्री ने हिन्दू आतंकवाद का नाम दिया

आतंकवाद के मुद्दे पर उनकी ऐसी नीति रही है कि 2013 में तत्‍कालीन गृह मंत्री ने ‘हिन्‍दू आतंकवाद’ जैसी शब्‍दावली का प्रयोग किया जिसके बाद पाकिस्तानी आतंकवादी हाफिज सईद ने फोन करके उन्हें मुबारकवाद दी। ऐसा घृणित काम करके उन्होंने आतंकवाद पर चल रही जाँच की दिशा को बदलने का प्रयास किया। क्‍या इससे आतंकी संगठनों का बचाव नहीं होता?

यू.पी.ए. सरकार ने शर्म अल शेख और हवाना में इसी प्रकार की बातें करके आतंकवाद के मुद्दे पर भारत के पक्ष को कमजोर किया था। हमारी आतंकवाद के खिलाफ स्‍पष्‍ट नीति है। आतंकवादी का कोई मजहब और जाति नहीं होती। आतंकवादी, आतंकवादी होता है। मैं सभी दलों से अपील करता हूँ कि हम सभी एकजुट होकर आतंकवाद का मुकाबला करें और उस पर विजय प्राप्‍त करें।

राजनाथ सिंह ने कविता के जरिये भी बोला हमला

अपनी बात के अंत में राजनाथ सिंह ने कांग्रेस पर चुटकी लेते हुए एक कविता भी सुनाई।

चीन छीन देश का गुलाब ले गया
ताशकंद में वतन का लाल सो गया
ये सुलह की शक्‍ल को संवारते रहे
जीतने के बाद बाजी हारते रहे।

Srishtanews

HINDU TERROR: A new religious Card by Congress

HINDU TERROR: A new religious Card by Congress

“Hindu Terror”  is trending all over India  and this word was actually coined by congress and it is trending high on social and mainstream….….Read More……….

RIP Dr. APJ Abdul Kalam:a great missile man!!!

Avul Pakir Jainulabdeen “A. P. J.” Abdul Kalam  

(15 October 1931 – 27 July 2015) was the 11th President of India from 2002 to 2007. A career scientist turned reluctant politician, Kalam was born and raised in… 768 more words

Geen Categorie

The Hindu - Government paralysed by contradictions, excessive controls

At the centre of this controversy are Union Finance Minister Arun Jaitley and Union Home Minister Rajnath Singh

Smita Gupta

New Delhi, 24 July 2015. Just a little over a year in power, the Modi government is gradually becoming dysfunctional, its members pulling in different directions, highly placed sources within it indicated on Thursday. 149 more words

News

Relaxing AFSPA now in Kashmir will be a historic blunder

When the Home Minister of India, Rajnath Singh on Thursday, July 2, said that the time is not conducive to lift the Armed Forces Special Powers Act (AFSPA) in Kashmir, he has a valid point. 41 more words

Vicky Nanjappa