Tags » Rishi Kapoor

Toilet named after him;Rishi Kapoor proud

Toilet named after him;Rishi Kapoor proud

Congress supporters recently named a toilet in Uttar Pradesh in the name of Rishi Kapoor who went on against Congress for naming everything in the country in the Gandhi family’s name….…..Read More…………

వెరైటీగా పగ తీర్చుకున్న కాంగ్రెస్.. మరుగుదొడ్డికి రిషికపూర్ పేరు

వెరైటీగా పగ తీర్చుకున్న కాంగ్రెస్.. మరుగుదొడ్డికి రిషికపూర్ పేరు

దేశంలోని పలు కట్టడాలకు, రోడ్లకు, పలు ప్రాంతాలకు గాంధీ పేర్లు పెట్టడంపై రిషి కపూర్ కాంగ్రెస్ పై విమర్శలు చేసిన సంగతి తెలిసిందే. గాంధీ కుటుంబ సభ్యుల పేర్లు పెట్టడాన్ని వ్యతిరేకిస్తూ ‘మీ అబ్బ సొత్తా’ అని వ్యాఖ్యానించారు……..….Read More…….

Affection rises and gives more profound meaning to everything. Adoration is realizing that there is somebody to bolster you, the person who holds your hand in each circumstance.

578 more words
Views

Cong names toilet after Rishi Kapoor

Cong names toilet after Rishi Kapoor

Taking Rishi Kapoor’s statement on naming roadways, airports and railway stations on prominent people’s names quite seriously, the congress supporters in Uttar Pradesh have named a Sulabh toilet in the name of Rishi.……Read More………

Kapoor vs Gandhi: Clash of two Dynasty

Rishi Kapoor went after Gandhi’s recently. He was suddenly angry that prominent places in India were named after ex-PM’s Nehru, Indira, Rajiv. Then came the personal and cheeky jibe, … 309 more words

Political

नेहरू-गाँधी परिवारिक योजनाएँ - नाम की राजनीति और बेनाम हिन्दुस्तानी

ऋषि कपूर हर एक भारतीय घर में जाना पहचाना नाम है। उनके एक्टिंग के जलवे से वो अपना लोहा इस उम्र में भी मनवा रहे हैं। लेकिन उनकी एक्टिंग की इस दूसरी पारी के साथ उनका एक नया चेहरा सामने आया है और वो है उनका बेबाकी अंदाज़। वो ट्विटर पर काफी सक्रिय हैं और अपने विचारों को खुले तौर पर व्यक्त करने के लिए जाने जाते हैं। अभी हाल ही में जब उन्होंने ये मुद्दा उठाया की इस देश की लगभग सभी पब्लिक प्रोपेर्टी या स्कीम्स नेहरू–गांधी परिवार के लोगों के नाम पर ही क्यों है तो जहाँ काफी लोगों ने उनका समर्थन किया तो वही काफी लोगों ने विरोध भी। कांग्रेस पार्टी ने भी जमकर उनकी आलोचना की और यहाँ तक कह डाला की शायद चिंटू जी का बीजेपी में जाने का इरादा है।

लेकिन जहाँ तक मुझे लगता है, उनका ये सवाल बिलकुल जायज है और कई हिंदुस्तानी इस बात से इत्तेफ़ाक़ भी रखते हैं। अगर इस देश की आज़ादी के समय से बात की जाये तो कई ऐसे हिंदुस्तानी रह चुके हैं जिन्होंने इस देश की आज़ादी और कामयाबी में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। ऐसे तो ये संख्या सैंकड़ो में है लेकिन अगर फिर भी कुछ लोगों को उनमे से चुना जाये तो भी ये लिस्ट काफी लंबी है। आज़ादी के वक़्त के आसपास की बात करें तो सरदार पटेल, लोकमान्य तिलक, गोपालकृष्ण गोखले, सुभाषचंद्र बोस, भगत सिंह, चंद्रशेखर आज़ाद, रवीन्द्रनाथ टैगोर ऐसे नाम हैं जो हर एक हिंदुस्तानी की जुबान पर आज भी हैं। और इस देश के लिए ये बहुमूल्य रत्नों से कम नहीं है। लेकिन फिर भी अगर इन महानायकों के नाम पर कोई चीज ढूंढी जाये तो विरले ही निकलेगी। ऐसे ही शास्त्री, विनोबा भावे और मदर टेरेसा जैसे लोगों का आज़ादी के बाद योगदान भुला नहीं जा सकता।

लेकिन अगर सरकारी योजनाओं पर गौर करें तो नेहरू–गांधी परिवार ही छाया है। ऋषि कपूर ने सरकारी तंत्र के इस दुरूपयोग पर सवाल उठा कर बिलकुल वही काम किया है, जो कई आम हिंदुस्तानी कभी न कभी अपने जीवनकाल में एक बार जरूर सोचता है की भाई हर चीज आखिर (नेहरू, इंदिरा या राजीव) गाँधी के नाम से ही क्यों है या होती है। क्या हो जायेगा अगर थोड़ी इज्जत शास्त्री को भी मिल जाये, एक–दो पुलों के नामकरण में गाँधी का छोड़ किसी और हिंदुस्तानी का नाम आ जाये। आखिर बांद्रा सी लिंक का राजीव गांधी से क्या लेना–देना, क्यों न उसे सत्यजित रे या लता मंगेशकर के नाम पर रखा जाये।

क्या ये गर्व और प्रेरणा की बात नही होगी अगर किसानो के लिए किसी योजना का नाम भावे के नाम पर रखा जाये या फिर कोई एअरपोर्ट होमी जहांगीर भाभा या  विक्रम  साराभाई के नाम से जाना जाये। अब जब इस बात पर कभी–कभार बहस होनी शुरू हुई है, और गैर-गाँधी परिवार के लोग भी प्रधानमंत्री बनने लगे हैं, सत्तापक्ष विपक्ष का विपक्ष होने का फ़र्ज़ अदा करने के बहाने ही सही, अगर आम हिन्दुस्तानियों को थोड़ी इज्जत बख्शना शुरू कर दे, तो शायद सरकारी दस्तावेजों में गाँधी–नेहरू के साथ आम आदमी भी इज्जत से खड़ा हो सकेगा। और चिंटू जी के साथ–साथ कई और हिन्दुस्तानियों का सपना भी सच हो पाएगा।

News Update: SHAHRUKH GOT A HAIRCUT!!! And other, less important, news

News update!  Besides the haircut, there are some juicy/political things popping up.  Exciting!  But mostly it’s about the hair. 376 more words

Filmi News You Can Use