Tags » S D Burman

वहाँ कौन है तेरा, मुसाफ़िर - Wahan Kaun Hai Tera Musafir (Guide)

फ़िल्म: गाइड / Guide (1965)
गायक/गायिका: एस. डी. बर्मन
संगीतकार: एस. डी. बर्मन
गीतकार: शैलेंद्र सिंह
अदाकार: वहीदा रहमान, देव आनंद

वहाँ कौन है तेरा, मुसाफ़िर, जायेगा कहाँ
दम लेले घड़ी भर, ये छैयां, पायेगा कहाँ
वहां हौन है तेरा…

बीत गये दिन, प्यार के पलछिन
सपना बनी वो रातें
भूल गये वो, तू भी भुला दे
प्यार की वो मुलाक़ातें – 2
सब दूर अन्धेरा, मुसाफ़िर जायेगा कहाँ…

कोइ भी तेरी, राह न देखे
नैन बिछाये ना कोई
दर्द से तेरे, कोई न तड़पा
आँख किसी की ना रोयी – 2
कहे किसको तू मेरा, मुसाफ़िर जायेगा कहाँ…

कहते हैं ज्ञानी, दुनिया है फ़ानी
पानी पे लिखी लिखायी
है सबकी देखी, है सबकी जानी
हाथ किसीके न आयी – 2
कुछ तेरा ना मेरा, मुसाफ़िर जायेगा कहाँ…

1960s

तेरे मेरे सपने अब एक रंग हैं - Tere Mere Sapne Ab Ek Rang Hain (Guide)

फ़िल्म: गाइड / Guide (1965)
गायक/गायिका: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: एस. डी. बर्मन
गीतकार: शैलेंद्र सिंह
अदाकार: वहीदा रहमान, देव आनंद

तेरे मेरे सपने अब एक रंग हैं
हो जहाँ भी ले जाएं राहें, हम संग हैं

तेरे मेरे दिल का, तय था इक दिन मिलना
जैसे बहार आने पर, तय है फूल का खिलना
ओ मेरे जीवन साथी…

तेरे दुख अब मेरे, मेरे सुख अब तेरे
तेरे ये दो नैना, चांद और सूरज मेरे
ओ मेरे जीवन साथी…

लाख मना ले दुनिया, साथ न ये छूटेगा
आ के मेरे हाथों में, हाथ न ये छूटेगा
ओ मेरे जीवन साथी…

1960s

पिया तोसे नैना लागे रे - Piya Tose Naina Lage Re (Guide)

फ़िल्म: गाइड / Guide (1965)
गायक/गायिका: लता मंगेशकर
संगीतकार: एस. डी. बर्मन
गीतकार: शैलेंद्र सिंह
अदाकार: वहीदा रहमान, देव आनंद

पिया तोसे नैना लागे रे, नैना लागे रे
जाने क्या हो अब आगे रे, नैना लागे रे
पिया तोसे नैना लागे रे, नैना लागे रे

हो, जग ने उतारे हो, धरती पे तारे,
पर मन मेरा मुरझाये
हो, उन बिन आई हो, ऐसी दीवाली
मिलनेको जिया तरसाये, आ साजन पायल पुकारे
झनक झन झन झनक झन झन, पिया तोसे
पिया तोसे नैना…

भोर की बेला सुहानी, नदिया के तीरे
भर के गागर जिस घड़ी मैं चलूँ धीरे धीरे
तुम पे नज़र जब आई, जाने क्यों बज उठे कंगना
छनक छन छन छनक छन छन, पिया तोसे
पिया तोसे नैना…

हो, आ, हो, आई होली आई हो, सब रंग लाई
बिन तेरे होली भी न भाए, हो
भर पिचकारी, हो, सखियों ने मारी
भीगी मोरी सारी हय हय,
तन-बदन मेरा कांपे थर-थर
धिनक धिन धिन धिनक धिन धिन, पिया तोसे
पिया तोसे नैना…

रात को जब चाँद चमके जल उठे तन मेरा
मैं कहूँ मत करो चंदा इस गली का फेरा
आना मेरा सैयाँ जब आए
चमकना उस रात को जब
मिलेंगे तन-मन मिलेंगे तन-मन,
पिया तोसे
पिया तोसे नैना…
पिया
हो हो पिया…

Lata Mangeshkar

क्या से क्या हो गया - Kya Se Kya Ho Gaya (Guide)

फ़िल्म: गाइड / Guide (1965)
गायक/गायिका: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: एस. डी. बर्मन
गीतकार: शैलेंद्र सिंह
अदाकार: वहीदा रहमान, देव आनंद

क्या से क्या हो गया
बेवफ़ा ऽऽऽ
तेरे प्यार में
चाहा क्या क्या मिला
बेवफ़ा ऽऽऽ
तेरे प्यार में

चलो सुहाना भरम तो टूटा
जाना के हुस्न क्या है
हो ओ ओ
चलो सुहाना भरम तो टूटा
जाना के हुस्न क्या है
कहती है जिसको प्यार दुनिया
क्या चीज़ क्या बला है
दिल ने क्या ना सहा
बेवफ़ा ऽऽऽ
तेरे प्यार में
चाहा क्या…

तेरे मेरे दिल के बीच अब तो
सदियों के फ़ासले हैं
हो ओ ओ
तेरे मेरे दिल के बीच अब तो
सदियों के फ़ासले हैं
यक़ीन होगा किसे कि हम तुम इक राह संग चले हैं
होना है और क्या
बेवफ़ा ऽऽऽ
तेरे प्यार में
चाहा क्या…

1960s

आज फिर जीने की तमन्ना है - Aaj Phir Jeene Ki Tamanna Hai (Guide)

फ़िल्म: गाइड / Guide (1965)
गायक/गायिका: लता मंगेशकर
संगीतकार: एस. डी. बर्मन
गीतकार: शैलेंद्र सिंह
अदाकार: वहीदा रहमान, देव आनंद

काँटों से खींच के ये आँचल
तोड़ के बंधन बांधे पायल
कोई न रोको दिल की उड़ान को
दिल वो चला ह ह हा हा हा हा
(आज फिर जीने की तमन्ना है
आज फिर मरने का इरादा है) – 2

कल के अंधेरों से निकल के
देखा है आँखें मलके मलके
फूल ही फूल ज़िंदगी बहार है
तय कर लिया अ अ आ आ आ आ
आज फिर जीने…

मैं हूँ खुमार या तूफ़ां हूँ
कोई बताए मैं कहाँ हूँ
डर है सफ़र में कहीं खो न जाऊँ मैं
रस्ता नया अ अ आ आ आ आ
आज फिर जीने…

Lata Mangeshkar

गाता रहे मेरा दिल - Gaata Rahe Mera Dil (Guide)

फ़िल्म: गाइड / Guide (1965)
गायक/गायिका: लता मंगेशकर, किशोर कुमार
संगीतकार: एस. डी. बर्मन
गीतकार: शैलेंद्र सिंह
अदाकार: वहीदा रहमान, देव आनंद

गाता रहे मेरा दिल, तू ही मेरी मंज़िल,
कहीं बीतें न ये रातें, कहीं बीतें न ये दिन – 2

प्यार करने वाले अरे प्यार ही करेंगे
जलने वाले चाहे जल जल मरेंगे
दिल से जो धड़के हैं वो दिल हरदम ये कहेंगे
कहीं बीतें न…

ओ मेरे हमराही, मेरी बाँह थामे चलना,
बदले दुनिया सारी, तुम न बदलना
प्यार हमे भी सिखला देगा, गरदिश में सम्भलना,
कहीं बीतें न…

दूरियाँ अब कैसी, अरे शाम जा रही है,
हमको ढलते ढलते समझा रही है,
आती जाती साँस जाने कब से गा रही है
कहीं बीतें न…

Lata Mangeshkar

दिन ढल जाये हाय, रात ना जाय - Din Dhal Jaaye (Guide)

फ़िल्म: गाइड / Guide (1965)
गायक/गायिका: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: एस. डी. बर्मन
गीतकार: शैलेंद्र सिंह
अदाकार: वहीदा रहमान, देव आनंद

दिन ढल जाये हाय, रात ना जाय
तू तो न आए तेरी, याद सताये, दिन ढल जाये

प्यार में जिनके, सब जग छोड़ा, और हुए बदनाम
उनके ही हाथों, हाल हुआ ये, बैठे हैं दिल को थाम
अपने कभी थे, अब हैं पराये
दिन ढल जाये हाय…

ऐसी ही रिम-झिम, ऐसी फ़ुवारें, ऐसी ही थी बरसात
खुद से जुदा और, जग से पराये, हम दोनों थे साथ
फिर से वो सावन, अब क्यूँ न आये
दिन ढल जाये हाय…

दिल के मेरे तुम, पास हो कितनी, फिर भी हो कितनी दूर
तुम मुझ से मैं, दिल से परेशाँ, दोनों हैं मजबूर
ऐसे में किसको, कौन मनाये
दिन ढल जाये हाये…

1960s