Tags » Satsang

Negotiating with Cookies - Fleegle Leads Satsang

“What am I?” Fleegle asks.

“You’re a dog, silly.”

“My body is a dog, but what am I beyond that?”

“You’re a Labrador Retriever dog, one of the sporting breeds.” 407 more words

Dogs

घेराबंदी से ग्रस्त हिन्दुओ ! सावधान !

सबसे खराब बात यह है कि धर्म-निरपेक्ष हीनभावना के शिकार अधिकांश हिन्दु,जो भी मीडिया कहता है उसे तुरंत सत्य मान लेते हैं। कोई सबूत नहीं – अचानक सभी लोग जज बन जाते हैं क्योंकि मीडिया और फिल्मों ने हमारे दिमागों में कूट-कूटकर भर रखा है कि अगर कोई हिन्दु संत है तो वह अवश्य ही भ्रष्ट और विकृत है। पूर्व में कांची मठ के शंकराचार्य श्री जयेन्द्र सरस्वती जी को हत्या के झूठे आरोप के तहत गिरफ्तार किया गया एवं मीडिया ने भी उनको कातिल ही प्रचारित किया। जब उनको निर्दोष छोड़ा गया तो किसी मीडिया प्रतिष्ठान ने उन्हें कातिल कहने के लिए कोई क्षमायाचना नहीं की। साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर एक भी सबूत व बिना चार्जशीट के वर्षों तक जेल में पड़ी रहीं केवल इसलिए कि वे हिन्दु साध्वी हैं। घेराबंदी से ग्रस्त हिन्दुओं ! झूठे आरोपों व कुप्रचार के माध्यम से तुम्हारे मार्गदर्शक व संत योजनाबद्ध रीति से समाप्त कर दिये जायेंगे। जब तक यह बात तुम्हारी समझ में आयेगी, तब तक बहुत देर हो चुकी होगी। अतः सावधान !

Asaram Bapu

First group meeting - March 30th 7-9pm

Hi everyone,

the group meetings will start on Monday March 30th at 7pm in the Salisbury Centre, 2 Salisbury road http://salisburycentre.org/

Looking forward to seeing you there!

Best wishes

Lisa

दैवी सम्पदा

जितने भी दुःख, दर्द, पीड़ाएँ हैं, चित्त को क्षोभ कराने वाले…. जन्मों में भटकानेवाले…… अशांति देने वाले कर्म हैं वे सब सदगुणों के अभाव में ही होते हैं
भगवान श्रीकृष्ण ने जीवन में कैसे सदगुणों की अत्यंत आवश्यकता है यह भगवद् गीता के ‘दैवासुरसम्पदाविभागयोग’ नाम के सोलहवें अध्याय के प्रथम तीन श्लोंकों में बताया है। उन दैवी सम्पदा के छब्बीस सदगुणों को धारण करने से सुख, शांति, आनन्दमय जीवन जीने की कुंजी मिल जाती है, धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष, ये चारों पुरुषार्थ सहज में ही सिद्ध हो जाते हैं, क्योंकि दैवी सम्पदा आत्मदेव की है।

ASHARAM BAPU

भोजन का प्रभाव

भोजन का प्रभाव

सुखी रहने के लिए स्वस्थ रहना आवश्यक है। शरीर स्वस्थ तो मन स्वस्थ। शरीर की तंदुरूस्ती भोजन, व्यायाम आदि पर निर्भर करती है। भोजन कब एवं कैसे करें, इसका ध्यान रखना चाहिए। यदि भोजन करने का सही ढंग आ जाय तो भारत में कुल प्रयोग होने वाले खाद्यान्न का पाँचवाँ भाग बचाया जा सकता है।

Aahar