Tags » Shairi

💕मैं जीत कर भी 💕

मैं जीत कर भी हारता रहा 💕💕💕💕💕💕💕 उनकी राहो मे फूल बिछाता रहा 💕💕💕💕💕💕💕💕💕 वो बेदर्द …फूल कुचलते रहे…… 💕💕💕💕💕💕💕💕💕 मेरे दिल को तोड़ते रहे…….. 💕💕💕💕💕💕💕💕💕 मैं रोता रहा अपने हाल पर 💕💕💕💕💕💕💕💕 वो मैफिलो मे हंसते रहे…… -wish wisdom

Shairi

💕जिस कदर टूट कर💕

जिस कदर टूट कर चहा हैं मैंने तुमको 💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕 ऐसे कोई चहा नहीं सकता …….। 💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕 जिस खूबसूरती से लिखा हैं नाम तेरा 💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕 दिल की दीवारों पर…… 💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕 ऐसे कोई लिख नहीं सकता……..

Shairi

‘Stop the car’

‘I said stop the car’

Hivi lazima kupanda,

Nani kasema kwenda lazima?

Mwendo kasi kuupima?

Nashuka, stop the car.

‘Stop the car’ 332 more words

Shairi

I was angry,

He said son you can’t do this,

Son you can’t do that,

Man you too worthless.

Then i got angry,

Try hard to push this, 128 more words

Shairi

Ghazal #2

मेरे दिल का जो क़रार था
शायद तुम्हारा ख़ुमाार था

फेहरिश्त-ए-कातिल-ए-जिगर मिली
मेरा नाम उसमें शुमार था

दामन से उलझता रहता था
तन्हा बहुत वो ख़ार था

फूंक डालूंगा मैं दिल की दुनिया
क्या जुनून मुझको सवार था

जिससे मैं झूमता रहता था
मेरे दिल का कोई आज़ार था

बेसाख़्ता अश्कों का सबब
इज़हार नहीं इनकार था

मिली ना राख भी जलने के बाद
मैं इतना नहीं बेकार था

हुई है चूक मेरे कातिल से
वगरना तीर आर पार था

~अभिषेक ‘अमन’

ख़ार= thorn
आज़ार=pain
बेसाख़्ता= spontaneous

Love

SHAIRI:KIULIZO

KIULIZO

Kukicha,

Nikiziangalia mbingu na kuona mwanga,

Napata shauku ya kujua zilivyoumbwa.

Nikitizama jua lavyotoa mwangaza,

Nataka kujua kinacholibebeza.

Mchana,

Mawingu yakielea na kusogea,

Jua likitia joto na kukolea, 51 more words

Poetry

A WEEPING SUN

At night i cry,

Before I sleep,

This deep,

This flip,

In agony, not wanted nor needed,

In hopeless of tomorrow’s height and light,

In reckless struggle I frit, 147 more words

Shairi