Tags » Two-liners

मेरे शब्द उसके ख्वाब लिखते है

मेरे शब्द उसके ख्वाब लिखते है
और आँसू उसकी हक़ीक़त।

उसकी तस्वीरें दिल को सुकून देते है,

और उसकी याद दिल को तड़प।

———-–——––—–——————-

माफ करना मैं मशीन नहीं,
जो तुमको यूजर मैन्युअल दे दूं,
अगर तलब है तो उतरो आंखों में,
मैं तुमको प्यार का दरिया दे दूं।

—-–—————————————

अक्सर हम लोगों का उपयोग करते है और मशीनों को समझते है जबकि जरूरत ठीक इसके विपरीत की है।
-श्री श्री (रविशंकर नहीं)

©सन्नी कुमार

-सन्नी कुमार

मेरी कविता

ज़िंदगी...

My Hindi Two-liners about ‘Life’…

कभी इसके, कभी उसके इशारों पर चलती,
ये ज़िंदगी जुए का दाँव हो जैसे कोई…

ज़िंदगी के कैन्वस पर तख़य्युल (Imagination) का चेहरा उकेर कर देखो, 34 more words

#रshmi