Tags » World Economic Forum

Young guns: Why millennials will redefine the GCC tech industry

By 2050, 54 percent of the region’s population is expected to be under 36 years of age. How will this growing influx of millennials shape the future of technology in the Middle East? 9 more words

भारत की 'लंबी छलांग'


वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के द्वारा वैश्विक प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक जारी किया गया है. कुल 137 देशों की इस सूची में भारत 40वें स्थान पर है. 3 साल पहले भारत इस सूची में भारत 71वें स्थान पर था. जाहिर है कि भारत ने लंबी छलांग लगाई है. बकौल बीबीसी “हालांकि वर्ल्ड इकनॉमिक फोरम की रिपोर्ट मोदी के आलोचकों की सोच से बिल्कुल अलग है. वर्ल्ड इकनॉमिक फोरम ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ अच्छे क़दम उठायें हैं, जिनसे भारत को अपनी रैंक सुधारने में मदद मिली है.”

गौरतलब है कि दुनिया के इतिहास में एक और ‘लंबी छलांग’ का जिक्र है. यह ‘लंबी छलांग’ लगाने की कोशिश चीन के तत्कालीन चेयरमैन माओ जे दुंग के नेतृत्व में की गई थी. माओ के नेतृत्व में ‘नियंता राजनीति’ का नारा दिया गया था. जिसका अर्थ होता है कि राजनीति ही सबकुछ निर्धारित करेगी. इस कोशिश में उस समय के चीन के आर्थिक वास्तविकताओं को अनदेखा कर, आर्थिक नियमों को दरकिनार कर अर्थव्यवस्था को ‘लंबी छलांग’ लगाने के लिये मजबूर किया जा रहा था. जिसके तहत किसानों को राजनीतिक निर्देशों का पालन करने के लिये कहा गया तथा कृषि के क्षेत्र में चीनी वास्तविकताओं को अनदेखा कर ‘समाजवाद’ की ओर ‘लंबी छलांग’ लगाने की कोशिश की गई थी. नतीजन किसान तथा उनके कृषि नष्ट होने के कगार पर पहुंच गये थे. दावा तो यहां तक किया जाता है कि करीब 2 करोड़ किसान मारे गये थे.

यहां पर चीन के ‘लंबी छलांग’ का इसलिये जिक्र किया क्योंकि भारत में कुछ-कुछ ऐसा ही हाल के समय में हुआ है. आर्थिक नियमों की अनदेखी करके राजनीतिक निर्देशों के तहत नोटबंदी तथा जीएसटी को लागू किया गया है. नतीजा यहां भी नकारात्मक रहा है.
इस साल की पहली तिमाही में वृद्धि दर 5.7 फीसदी की रही है. निवेश लगातार कम होता जा रहा है. सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की गैर-निष्पादित संपत्ति में इज़ाफा होता जा रहा है. दिसंबर 2016 की स्थिति में यह 6.46 लाख करोड़ रुपयों का हो गया है. जबकि जून 2014 में यह 2.34 लाख करोड़ रुपयों का था. जाहिर है कि बिना सोचे समझे औद्योगिक घरानों को कर्ज दिया जा रहा है जो अब डूबता हुआ नज़र आ रहा है.

रोजगार में कमी आई है तथा बेरोजगारी बढ़ी है. सेंटर फॉर मानीटरिंग इंडियन इकोनामी के अनुसार पिछले 4 माह में 15 लाख नौकरियों में कमी आई है. दूसरी तरफ किसानों द्वारा किये जा रहे आत्महत्या के मामले बंद नहीं हुये हैं. जिससे जाहिर होता है कि देश का अन्न उत्पादक खुद संकट में है.

कुछ दिनों पहले ‘फोर्ब्स इंडिया’ ने देश के 100 सबसे अमीरों की सूची जारी की है. फोर्ब्स इंडिया वेबसाइट ने शीर्षक दिया है, ‘मंद पड़ती अर्थव्यवस्था के बावजूद और धनवान हुये भारत के अमीर.’ इस सूची के अनुसार देश के शीर्ष 100 अमीरों की साझा संपत्ति पिछले साल की तुलना में 25 फीसदी बढ़कर 479 बिलियन डालर की हो गई है.

इससे जाहिर है कि देश के अमीरों पर मौजूदा आर्थिक मंदी का कोई असर नहीं पड़ा है. दूसरी तरफ नोटबंदी के बाद आये जीएसटी ने देश के करोड़ों व्यापारियों की कमर तोड़ कर रख दी है.

अब आप ही बताईये यह ‘लंबी छलांग’ किसने लगाई है देश के अधिसंख्य बाशिंदों ने या देश के 100 सबसे अमीर घरानों ने? जाहिर है कि इसी कारण से वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के द्वारा जारी वैश्विक प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक में भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है जबकि चीन 27वें स्थान पर होते हुये भी स्थिर है.

Politics

Mastercard open to acquisitions in India, to invest $800 mn over 4-5 yrs

US-construct installments organization Mastercard with respect to Thursday said it is interested in gaining organizations inIndia and will contribute $800 million throughout the following 4-5 years. 106 more words

Railways can generate 1 mn jobs but the system is slow: Piyush Goyal at WEF

Over the years, the system that has been created is slow to move, said Goyal at World Economic Forum

 

“We have the potential to create no less than a million jobs around railways if we can provide an enabling environment,” said Minister of Railways and Coal… 231 more words

World Economic Forum: Inviting applications for ‘Young Global Leader 2019’ to identify and select the most exceptional leaders from politics, business, civil society, academia, and arts and culture across seven geographic regions.

Award brief: The Forum of Young Global Leaders has established a comprehensive selection process for identifying and selecting the most exceptional leaders. Every year, thousands of candidates from around the world are proposed and assessed according to rigorous selection criteria. 395 more words

Donor

Nigeria Moves 125th, Ghana 111th Among World's Competitive Economies

​Nigeria has moved two steps upward among the competitive economies in the world, according to the latest ranking by the World Economic Forum, WEF.

Nigeria is now 125th out of the 137 economies that the ranking covers; it occupied the 127th position in last year’s ranking. 171 more words

News

Global Human Capital Report 2017 - The Top 10 countries

Efforts to fully realize people’s economic potential – in countries at all stages of economic development – are falling short due to ineffective deployment of skills throughout the workforce, development of future skills and adequate promotion of ongoing learning for those already in employment. 241 more words

In The News